काबुल। तालिबान के हमलों में 11 पुलिसकर्मियों समेत 21 लोगों की मौत हो गई। अफगानिस्तान में तालिबान के द्वारा दो हमले किये गये जिसमें पहला हमला सोमवार रात बघलान प्रांत में एक पुलिस चेकपोस्ट पर किया गया। इस हमले में 11 पुलिसकर्मियों की जान चली गई। हमले को अंजाम देने के बाद आतंकी पुलिस के हथियार और गोला-बारूद भी ले गए। सोमवार सुबह समांगन प्रांत में एक अन्य हमले में तालिबान ने सरकार समर्थित फाइटर्स को अपना निशाना बनाया। इस हमले में एक महिला समेत दस फाइटर्स ने अपनी जान गंवा दी।

इस घटना के पहले मध्य अफगानिस्तान के एक सैन्य परिसर में 21 जनवरी को तालिबान के हमले में 100 से ज्यादा सुरक्षाकर्मी मारे गए हैं। रक्षा मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी। तालिबान ने हमले की जिम्मेदारी ली है और 190 लोगों को मारने का दावा किया है। रक्षा मंत्रालय के अधिकारी ने यहां बताया कि बरदक प्रांत की राजधानी मैदान शार में सैन्य अड्डे पर हुए हमले में 126 लोग मारे गए।



सैन्य परिसर में मारे गए सैनिक

एनडीएस के प्रशिक्षण अड्डे के प्रवेश द्वार पर पहले आतंकियों ने विस्फोटकों से भरे एक वाहन से शक्तिशाली विस्फोट कराया। उसके बाद दो बंदूकधारियों ने परिसर में घुसकर अंधाधुंध फायरिंग की और अनेकों सुरक्षाकर्मियों को मार गिराया। बाद में सुरक्षा बलों ने दोनों को मार गिराया। आतंकी संगठन तालिबान के प्रवक्ता जबिउल्ला मुजाहिद के अनुसार सैन्य परिसर पर उसके हमले में 190 लोग मारे गए हैं।