रायपुर । मरवाही चुनाव को लेकर बड़ी खबर है। अब इस सीट से अमित या ऋचा जोगी चुनाव नहीं लड़ पाएंगे।  शनिवार को जाति प्रमाण पत्र खारिज होने के चलते चुनाव अधिकारी ने दोनों के नामांकन रद्द कर दिए। राज्य स्तरीय उच्च जांच कमेटी ने अमित का जाति प्रमाण पत्र रद्द कर दिया था। जिला चुनाव ऑफिस में शनिवार को नामांकन पत्रों की जांच पूरी हो गई। हाईपावर कमेटी ने चुनाव ऑफिस को अमित जोगी का जाति प्रमाण पत्र रद्द किए जाने का लेटर भेजा और उन्हें कंवर जाति का नहीं माना। यह आदेश एक दिन पहले 16 अक्टूबर को ही जारी किया गया। कमेटी इससे पहले अमित जोगी के पिता और पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी का जाति प्रमाण पत्र भी रद्द कर चुकी है।

अमित की जाति को को लेकर एक घंटे बहस के बाद चुनाव अधिकारी ने उनका नामांकन खारिज कर दिया। इसके बाद ऋचा जोगी के नामांकन को लेकर भी विवाद होता रहा। 

आखिरकार चुनाव अधिकारी ने ऋचा के नामांकन को भी कानूनी तौर पर सही नहीं माना और उसे भी खारिज करने के आदेश जारी कर दिए। छत्तीसगढ़ बनने के बाद पहली बार ऐसा हुआ है, जब पूरा जोगी परिवार मरवाही चुनाव से बाहर है। प्रदेश के सियासी इतिहास में पहली बार यह हुआ कि जोगी परिवार फिलहाल मरवाही की चुनावी रेस से बाहर कर दिया गया है। अमित के पिता अजीत इसी सीट से विधायक बने और छत्तीसगढ़ के पहले मुख्यमंत्री बनने का सफर तय किया। इस सीट से प्रबल दावेदार माने जा रहे अमित जोगी फिलहाल सियासी तौर पर घिर गए हैं।