रायपुर। भारतीय जनता पार्टी से कुछ देर पहले ही निष्‍काषित बसंत अग्रवाल ने कहा है कि भाजपा युवाओं साथ छलावा कर रही है। मुझे पार्टी से निकाला जाना विद्वेषपूर्ण राजनीति है। मैंने टिकट के लिए अपनी बात रखी थी। अगर टिकट के लिए अपनी बात रखना पार्टी विरोधी काम है, तो प्रदेश में बड़ी संख्‍या में भाजपा के कार्यकर्ता और नेता ऐसा कर रहे हैं। ऐसे में उन सभी के खिलाफ ऐसे ही कार्रवाई होनी चाहिए।

The Voices से बातचीत करते हुए बसंत अग्रवाल ने कहा, मैं साजा विधानसभा से निर्दलीय चुनाव लड़ूंगा और जीत कर दिखाउंगा। पूरे युवाओं का समर्थन मेरे साथ है। नामांकन रैली में मेरे साथ 20 हजार कार्यकर्ता मौजूद होंगे। यह संख्‍या 20 हजार से ज्‍यादा होगी, लेकिन 19999 नहीं होगी।



जब रैली में इतनी बड़ी संख्‍या हो सकती है, तो आप समझ सकते हैं कि मैं कितनी बड़े बहुमत से जीतूंगा।