भोपाल। शासन-प्रशासन लाख दावा कर ले लेकिन मध्यप्रदेश में रेप की घटनाएं रूकने का नाम नहीं ले रहा है। अपराधी बिना किस डर के घटनाओं को अंजमा दे रहे हैं। प्रदेश की राजधानी भोपाल में पिछले 24 घंटों में चार नाबालिगों से रेप के मामले सामने आये हैं। इसमें एक नाबालिग गर्भवती हो गई है। वहीं तीन ममालों में दुष्कर्मी नाबालिग के परिजन ही हैं। मामले में पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। 

पहला मामला बजरिया पुलिस थाने का है। यहां खुशीपुरा बजरिया में रहने वाली 15 साल की किशोरी के साथ दुष्कर्म हुआ। नाबालिग दादी के साथ सो रही थी। तभी आरोपी चोरी-छिपे घर में घुस गये और पीडि़ता को डरा धमकाकर जबरन दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया। 

दूसरी घटना शाहपुरा क्षेत्र का है, जहां सातवीं में पढ़ने वाली छात्रा के साथ पड़ोसी प्रहलाद पाल ने ही रेप किया। नाबालिग आरोपी की पत्नी से दवाई लेने उसके घर गई थी। पत्नी की गैरमौजूदगी में आरोपी ने लड़की को घर के अंदर बुलाया और दुष्कर्म किया। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

 तीसरा मामला गांधीनगर पुलिस थाने का है। यहां रविवार शाम में ईदगाह हिल्स निवासी फरहान आसाराम चौराहे के पास से रविदास नगर निवासी चौथी कक्षा की छात्रा को आइसक्रीम दिलाने के बहाने अपने साथ एरोड्रम के पास ले गया। वहां बच्ची के साथ गलत काम किया। इसी दौरान गश्त करते समय पुलिस वहां पहुंच गई और कार सुनसान जगह पर खड़ी हुई देख तलाशी करने लगी। तभी फरहान पुलिस के हत्थे चढ़ गया।

 चौथी घटना निशातपुरा पुलिस थाने की है। 13 साल की नाबालिग से उसके किसी परिचित ने ही दुष्कर्म किया। पीड़ित नाबालिग गर्भवती है। वो अभी बहुत डरी और सहमी हुई है। आरोपी का नाम भी नहीं बता पा रही है।