The Voices

छत्तीसगढ़

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

By मिथुन मंडल

पखांजुर। प्रदेश में अभी भी कुछ इलाके ऐसे हैं जो मूलभूत सुविधाओं से वंचित है। आज भी प्रदेश में ऐसे अनेको गाँव हैं, जहां विकास की किरण नहीं पहुच पाई है। जिले के कोइलिबेड़ा ब्लाक के ग्राम पंचायत इरिकबूटा के आश्रित ग्राम नवागांव में एक ऐसी ही तस्वीर देखने को मिली।  

पहाड़ो से घिरे इस गाँव में लोगो को अन्य सुविधाएं तो दूर की बात है पानी जैसी मूलभूत सुविधाएँ भी नहीं मिल पाई हैं। बता दें कि इस गाँव में 40 से 45 परिवार रहते है, जहां 200 की जनसंख्या है। जो आज तक पानी, सड़क, स्वास्थ, शिक्षा जैसी बुनियादी सुविधा से वंचित है।

गाँव के लोगों ने बताया कि- स्वास्थ, शिक्षा, सड़क, पानी के नाम पर कुछ नहीं है। गाँव से करीबन एक किलोमीटर दूर एक अजीबो कुआ है, जहां से प्यास बुझाने के लिए पानी को लाया जाता है। कुंए का पानी कुछ ही दिनों तक चलेगा उसके बाद तीन किलोमीटर चलकर पानी की व्यवस्था करनी होगी। गाँव को बसे आज 15 साल हो चुके हैं लेकिन सरपंच ने एक भी हैण्डपंप नहीं लगया। मजबूरन ग्रामीणों को उस कुआ झरिया का पानी पीने में मजबूर है।  गाँव के चन्द्रसहाय कुमेटी, नरसिंह कुमेटी, रणजी पोटाई, रामसहाय बड्डे, रतन।

रायपुर

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

रायपुर। फोन टैपिंग मामले में निलंबित आईपीएस अधिकारी मुकेश गुप्ता गुरूवार को EOW के राजधानी स्थित दफ्तर पहुंचे। EOW के दफ्तर आज अपना बयान दर्ज कराने वाले आईपीएस मुकेश गुप्ता ने कई गंभीर बातें बतायी। उन्होंने कहा कि फोन टैपिंग गलत नहीं था,  मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा कि फोन टेपिंग के लिए पूर्व चीफ सिकरेट्री विवेक ढांढ़ ने एप्रूवल दिया था और नोटशीट पर होम सिकरेट्री एऩके असवाल के हस्ताक्षर थे।

इस दौरान उन्होंने कहा कि- फोन टेपिंग का अधिकार उन्हें है और इसके लिए किसी शिकायत की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि बैक डेट में की गयी कंपलेन के आधार पर उनके खिलाफ कार्रवाई की गयी है। मुकेश गुप्ता ने आज दो भाग में अपना बयान दर्ज कराया। हालांकि मुकेश गुप्ता के मुताबिक EOW आज सिर्फ एक ही मामले पर बयान दर्ज कराना चाह रहा था, लेकिन मुकेश गुप्ता ने कहा कि आज ही उन्हें सारे बयान दर्ज कराने हैं, क्योंकि इसके बाद वो कुछ और केस भी EOW के खिलाफ हाईकोर्ट में फाइल करने जा रहे हैं।

मुकेश गुप्ता पर बार-बार ये आरोप लगता रहा कि वो नोटिस की तामिल नहीं करा रहे, लेकिन आज उन आरोपों पर उन्होंने साफ किया कि उन्हें आज तक कोई भी नोटिस नहीं दिया गया, नोटिस उन्हें न भेजकर मीडिया में भेज दिया जाता है। उन्होंने बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि इस दफ्तर में रहते हुए उन्होंने जितने करोड़ों रुपये के बड़े-बड़े करप्शन को पकड़ा है, उनमें फंसे लोगों को बचाने के लिए ही उन पर आरोप लगे हैं।

कांकेर

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

By पुनेश यादव

कांकेर। कई समस्याओं से जूझ रहे एमजी वार्ड के मोहल्लेवासी और पार्षद आज समस्याओ के लेकर नगर पालिका पहुंचे जहां उन्होंने पालिका पर उपेक्षा का आरोप लगाया है। वही वार्ड की भाजपा पार्षद मीरा सलाम ने कहा कि इससे पहले भी वार्ड की महिलायें पानी सहित अन्य समस्याओं को लेकर पालिका पहुंची थी और पालिका अध्यक्ष से मुलाकात कर वार्ड में सुविधाए प्रदान करने मांग रखी, जिसके बाद पालिका अध्यक्ष ने वार्ड में कांग्रेस पार्टी को वोट कम मिलने की बात कहते हुए सुविधा कम प्रदान करने की बात कही है। जिससे वार्ड वासियों में भारी आक्रोश है।

पार्षद मीरा सलाम ने बताया कि- वार्ड की समस्या को लेकर लिखित ज्ञापन और मौखिक रूप से अवगत कराया गया था जिसके बावजूद अब तक वार्ड में किसी प्रकार का कार्य नही किया गया है। जिस पर हमेशा आवाज बुलंद की जाती रही है वही काफी दिनों से वार्ड में पानी की समस्या गहरा गई है जिससे वार्डवासी काफी परेशान है। इसी समस्याओ को लेकर मोहल्लेवासी एवं पार्षद पालिका कार्यालय पहुंचे थे।

वही इस संबंध में पालिका अध्यक्ष का पक्ष जानने कल इए उनसे बात करने की कोशिश की गई लेकिन उन्होंने फोन नहीं उठाया।

स्पोर्ट्स

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

नई दिल्ली। आईपीएल का 12वां सीजन इस बार फीका पड़ने वाला है क्योंकि विश्व कप के चलते कुछ खिलाड़ियों को बीच में IPL छोड़कर जाना पड़ेगा। 30 मई से इंग्लैंड और वेल्स में शुरू हो रहे विश्व कप के चलते सभी टीमों के मुख्य खिलाड़ी टूर्नामेंट को बीच में छोड़कर स्वदेश लौट जाएंगे। दरअसल यह पहले ही तय हो गया था कि विश्व कप के चलते सभी टीमों के कुछ खिलाड़ी टूर्नामेंट को बीच में छोड़कर वापस स्वदेश लौट जाएंगे।

बता दें कि इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ी सबसे पहले ही स्वदेश लौटेंगे। वहीं, कीवी और बांग्लादेशी खिलाड़ी पूरा सीजन खेलेंगे। इन खिलाड़ियों के वापस लौटने से निश्चित रूप से सभी टीमों को नुकसान का सामना करना पड़ सकता है।

8 टीमों के ऐसे खिलाड़ी हैं, जो टूर्नामेंट को बीच में छोड़कर वापस अपने देश लौट जाएंगे:-

चेन्नई 

फाफ डू प्लेसिस, इमरान ताहिर 

दिल्ली

कागिसो रबाडा

मुंबई

जेसन बेहरेनडॉर्फ, क्विंटन डी कॉक

 हैदराबाद

डेविड वार्नर, जॉनी बेयरस्टो, शाकिब अल हसन 

पंजाब

डेविड मिलर 

कोलकाता

जो डेनली 

 बैंगलोर

डेल स्टेन, मोइन अली, मार्कस स्टोइनिस 

राजस्थान

जोस बटलर, स्टीव स्मिथ, बेन स्टोक्स, जोफ्रा आर्च

Subcategories

The Voices FB