रमेश गुप्ता

रायपुर। पुलिस ने सरस्वती नगर थाना क्षेत्र में हुए अंधे कत्ल की गुत्थी सुलझा ली है। हत्यारा कोई और नहीं बल्कि मृतका का प्रेमी ही निकला। बताया जा रहा है कि प्रेमी अपनी प्रेमिका का किसी और व्यक्ति से प्रेम प्रसंग की बात बर्दाश्त नहीं कर पाया और उसने प्रेमिका की हत्या कर दी। पुलिस आरोपी को गिरफ्तार कर कार्यवाही कर रही है।

सरस्वती नगर थाना में हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी निवासी सिद्धार्थ चटर्जी ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी, जिसमें उसने बताया कि कोटा कॉलोनी स्थित मकान को 20 दिन पहले उसने बालोद के देवरी थाना क्षेत्र के अलिवारा निवासी रोमिन भुआर्य को किराए पर दिया था। उन्होंने बताया कि रोमिन सुयश अस्पताल में नर्स की नौकरी करती थी। 9 जुलाई 2019 को सिद्धार्थ को सूचना मिली की उसके मकान से काफी बदबू आ रही है, जिसके बाद जब वह मकान पहुंचा तो उसने देखा कि कमरे में रोमिन भुआर्य का शव पड़ा हुआ है, जिसमें कीड़े लग गए थे। घटना की सूचना मिलने पर पुलिस घटना स्थल पर पहुंची और मर्ग कायम किया। पुलिस अज्ञात आरोपी के खिलाफ अपराध दर्ज कर मामले की जांच में जुट गई।

पुलिस ने पड़ताल के दौरान मृतिका के प्रेमी को हिरासत में लेकर पूछताछ की। पूछताछ के दौरान आरोपी ने बताया कि मृतका और आरोपी ने गांव के स्कूल में एक साथ पढ़ाई की थी और पिछले 6-7 सालों से दोनों के बीच प्रेम संबंध था। इसी दौरान आरोपी को मृतका का किसी अन्य व्यक्ति के साथ प्रेम प्रसंग होने की जानकारी मिली जिस पर आरोपी ने मृतका को उस व्यक्ति से मिलने से मना किया लेकिन उसने आरोपी की बात नहीं मानी और दोनों लगातार संपर्क में बने रहे। यह बात आरोपी बर्दाश्त नहीं कर सका और 5 जुलाई 2019 को आरोपी रायपुर आया और मृतका से मिलने उसके घर पहुंचा, जहां दूसरे व्यक्ति से प्रेम प्रसंग की बात को लेकर दोनों के बीच विवाद हुआ। विवाद इतना बढ़ गया कि आरोपी ने मृतका का गला दबाकर उसकी हत्या कर दी, जिसके बाद कमरे के दरवाजे को बाहर से बंद कर फरार हो गया। बहरहाल आरोपी को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।