By रतनलाल डांगी

 

दीपोत्सव का त्योहार दीपावली बुधवार को पूरे देश में मनाया जाएगा। लोग इस दिन दिये जलाकर घर से बुराई करने की प्रार्थना करेंगे। वहीं दक्षिण बस्तर रेंज के पुलिस उप महानिरीक्षक रतन लाल डाँगी ने एक दीपक उन शहीद जवानों के लिए भी जलाने की अपील जनता से कि जो युद्ध तो जीत गए लेकिन लौटकर नही आए। 

डांगी ने कहा कि दीवाली तब तक है जब तक लोकतंत्र व संविधान जिंदा है। लोकतंत्र व संविधान को जिंदा रखने के लिए सरहद पर हमारे वीर जवान दुश्मन देशों और आतंकवादियों से लोहा लेकर मातृभूमि के लिये लड़ रहे हैं। वहीं देश के अंदर भी लोकतंत्र विरोधी, संविधान विरोधी ताकतों के खिलाफ लड़ रहे हैं।

 देश में माओवादी एवं अनेक ताकतें सक्रिय हैं, जो आपके दीप की ली को बुझाने की भरसक कोशिश कर रही हैं, क्योंकि उनको न तो इस देश की लोकतांत्रिक व्यवस्था में विश्वास है और न ही भारतीय संविधान में।लोकतांत्रिक और संविदान की रक्षा के लिये कितने वीर सपूत अपने जवानों की बलि दे चुके हैं। वो युद्ध तो जीत गये लेकिन लौटकर न आ सके। इन सच्चे वीरों के लिए भी एक दिये अपने घर में जलाये।

रतनलाल डांगी वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी हैं और वर्तमान में बस्तर पुलिस के डीआईजी के रूप में पदस्थ हैं।