रायपुर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ चैम्बर ऑफ कॉमर्स द्वारा आयोजित सम्मान समारोह में शिरकत की। मेडिकल कॉलेज के ऑडिटोरियम में यह आयोजन किया गया था। चैंबर ऑफ कॉमर्स ने मुख्यमंत्री, मंत्रियों और रायपुर के चार विधायकों का सम्मान किया। वही व्यापरियों ने मुख्यमंत्री सहायता कोष के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को 51 हजार का चेक प्रदान किया। इस मौके पर चैम्बर ऑफ कॉमर्स के सभी पदाधिकारी और सदस्य मौजूद रहे।



इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि- “व्यापारियों ने हम पर विश्वास जताया है। हम भरोसा दिलाते हैं कि कांग्रेस की सरकार में व्यापारियों की रक्षा होगी। आप लोगों को सताया नहीं जाएगा। पिछले समय व्यापारियों से मिले थे तो कुछ आशंकाएं व्यक्त की गई थी। व्यापारियों की आशंका पर कहा कि वर्ष 2000 से 2003 के कार्यकाल को भूल जाइए, अब वे हमारी साथ नहीं है। उस समय व्यापारी बंधु की हत्या हुई थी। साथ ही 2000 से 2003 के कार्यकाल में व्यापारियों को लाठी पड़ी थी। इसलिए आपने हमें तीन बार सजा दे दी। अब उसे भूल जाइए।

इस समारोह में मुख्यमंत्री ने विकास उपाध्याय की तारीफ करते हुए कहा कि काफी नौजवान लड़का है। बहुत मेहनत करता है भागता-फिरता है। कुलदीप जुनेजा तो स्कूटी वाले हैं। सबसे मिलते रहते हैं। आप इनका लाभ लेते रहिए।

समारोह में चैंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष जितेंद्र बरलोटा ने कहा कि मुख्यमंत्री, मंत्रिमंडल और रायपुर के चारों विधायकों का सम्मान चैंबर ऑफ कॉमर्स द्वारा किया गया है. उन्होंने कहा कि यह अभिनदंन समारोह था, इसलिए हमने कोई डिमांड सरकार के सामने नहीं रखी। चैंबर ऑफ कॉमर्स सवांद के माध्यम से काम करता है। हमें विश्वास है कि नई सरकार जिस प्रकार से कृषि आधारित उद्योगों की बात कर रही है तो चैंबर ऑफ कॉमर्स उनके साथ है। जितेंद्र बरलोटा ने आगे कहा कि मुख्यमंत्री नए हैं और ये चैंबर का फर्ज भी बनता है इसलिए सम्मान किया गया है। चैंबर हमेशा व्यापारियों और सरकार के बीच सेतु का काम करता है।