दिल्ली: कांग्रेस नेता राहुल गांधी से प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा की जा रही पूछताछ और अग्निपथ योजना के विरोध में कांग्रेस का विरोध प्रदर्शन मंगलवार को भी  जारी रहा। 24 अकबर रोड पर प्रदर्शन के दौरान महिला कांग्रेसी नेता ने पुलिसकर्मी पर थूक दिया। दिल्ली पुलिस ने उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है। दूसरी तरफ दिल्ली पुलिस ने नेताओं  समेत 197 कांग्रेसी नेताओं को हिरासत में लिया है। 

दिल्ली पुलिस के विशेष पुलिस आयुक्त (लॉ एंड ऑर्डर)  सागरप्रीत हुड्डा ने बताया कि ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी के सचिव की तरफ से जंतर-मंतर पर प्रदर्शन करने की अनुमति 20 जून को मांगी गई थी। इस सत्याग्रह में 1000 कांग्रेसी नेता व कार्यकर्ता ही शामिल हो सकते थे मगर ये लोग जंतर-मंतर पर सत्याग्रह करने की बजाय 24 अकबर रोड पर एकत्रित होने लगे। यह धारा 144 का उल्लंघन था। इस मामले में 197 कांग्रेसी नेता व कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया गया। इनमें 18 सांसद  भी शामिल थे। इस बाबत मामला दर्ज किया गया है। 

इस दौरान ऑल इंडिया महिला कांग्रेस की अध्यक्ष नेटा डिसूजा ने सरकारी काम में बाधा पहुंचाने का प्रयास किया। आरोप है कि इन्होंने पुलिसकर्मी पर थूक दिया। इस बाबत भी तुगलक रोड थाने में मामला दर्ज किया गया है। मामले की जांच की जा रही है। थूकने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। 

एक अन्य मामले में करीब 12 लोग अग्निपथ के विरोध में भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा के घर मंगलवार दोपहर को पहुंच गए। इनके पास लंबा डंडा व ज्वलनशील पदार्थ था। इन लोगों ने डंडे को जलाया और भाजपा अध्यक्ष के आवास के बाहर रख दिया। इस मामले में भी पुलिस कानूनी कार्रवाई कर रही है। दूसरी तरफ कालिंदी कुंज थाना पुलिस ने कांग्रेस के एक सांसद समेत कई कार्यकर्ताओं को     हिरासत में लिया है।