नई दिल्ली। CBSE की 10वीं-12वीं बोर्ड की परीक्षा 15 फरवरी से शुरू हो जायेगी। इस साल परीक्षा में लगभग 28 लाख छात्र शामिल होने वाले हैं। परीक्षा के लिए परिवर्तित नियमों की जानकारी दी गई है। बोर्ड के नए नियम के अनुसार एडमिट कार्ड पर पैरेंट्स, छात्र और प्रिंसिपल के हस्ताक्षर होने चाहिए। इस साल बोर्ड ने एडमिट कार्ड पर पैरेंट्स के हस्ताक्षर के लिए एक कॉलम बनाया है। किसी एक के हस्ताक्षर छूटने पर परीक्षा केंद्र में एंट्री की अनुमति नहीं दी जाएगी।

CBSE ने स्कूलों और अभिभावकों को आधिकारिक वेबसाइट cbse.nic.in पर महत्वपूर्ण निर्देश जारी किए हैं। CBSE ने स्कूलों और अभिभावकों को आधिकारिक वेबसाइट बोर्ड ने परीक्षा के लिए स्कूल यूनिफॉर्म अनिवार्य कर दिया गया है। बोर्ड ने इसके लिए स्कूलों को सलाह दी है कि वे अपने छात्रों को इसके बारे में निर्देश दें। अगर रेग्युलर छात्र परीक्षा के दौरान सही तरीके से स्कूल यूनिफॉर्म पहनकर नहीं आते हैं, तो उन्हें परीक्षा केंद्र में एंट्री के लिए रोका जा सकता है।

बोर्ड ने परीक्षार्थियों के लिए गाइडलाइन जारी की है जिसके अनुसार:-

  • छात्र एक पारदर्शी बैग में अपनी पेन और जरूरत की स्टेशनरी ले जा सकते हैं।
  • छात्रों को स्कूल के कार्ड और सीबीएसई बोर्ड परीक्षा के एडमिट कार्ड ले जाने की अनुमति है।
  • परीक्षा हॉल के भीतर कोई नोट्स, पर्स, मोबाइल फोन, स्मार्ट वार्च लेकर जाने की सख्त मनाही है।
  • वहीं एक बार चेक कर ले एडमिट कार्ड पर सिग्नेचर और मुहर लगी हुई हो।
  • परीक्षा के लिए छात्रों को स्कूल यूनिफॉर्म में ही जाना होगा।