रायपुर ।  छत्तीसगढ़ भारतीय जनता पार्टी के तमाम बड़े नेता शनिवार की शाम राजभवन पहुंचे। इन नेताओं ने राज्यपाल अनुसुइया उइके से भेंट कर सरकार की शिकायत की। नेताओं ने कहा कि राज्य में कानून व्यवस्था की स्थिति बिगड़ गई है। दुष्कर्म की घटनाएं हो रही हैं। भाजपा कार्यकर्ताओं को प्रताड़ित किया जा रहा है। इसके विरोध में दुर्ग के सांसद विजय बघेल अनशन पर बैठे हैं, लेकिन अभी तक सरकार के प्रतिनिधि तो दूर कलेक्टर या एसपी भी नहीं पहुंचे हैं। भाजपा ने राज्यपाल को हस्तक्षेप कर पाटन की घटना पर संज्ञान लेने और रिपोर्ट मंगाने की मांग की।

भाजपा कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी के विरोध में दुर्ग सांसद बघेल अनशन पर बैठे हैं। इसे लेकर शनिवार शाम को पूर्व सीएम डॉ. रमन सिंह, नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक सहित प्रमुख नेता एकात्म परिसर में जुटे। वहां चर्चा के बाद राजभवन पहुंचे और राज्यपाल को घटना से अवगत कराया। नेताओं ने कहा कि कांग्रेस सरकार की निरंकुशता के कारण प्रदेश अपराधियों की गिरफ्त में आ गया है। महिलाओं के साथ बलात्कार की घटनाएं तेजी के साथ बढ़ी हैं। अपराधियों के हौसला इतने बुलंद हैं कि अबोध बच्चियों-नाबालिग बेटियों के साथ पाशविक दुष्कर्म हो रहे हैं। सरकार का इस पर नियंत्रण नहीं कर पा रही है। राज्यपाल ने अब तीन दिनों में रिपोर्ट मंगाई है।