संतोष ठाकुर

जगदलपुर। एक पुलिसकर्मी ने मानवता की ऐसी मिसाल पेश की, जिसकी हर कोई सराहना कर रहा है। दरअसल खेल-खेल में एक बच्चे की 9 फिट गहरे खदान में गिरने से मौत हो गई। बच्चे की मौत के बाद थाना प्रभारी ने बच्चे के शव को घर तक पहुंचाया और उसके अतिम संस्कार के लिए सामान भी परिजनों को उपलब्ध कराया।  

यह घटना शहर से 20 किलोमीटर दूर बसे बकावंड के ग्राम सतलावंड की है। मामले के बारे में जानकारी देते हुए बताया गया कि चौकी बकावंड क्षेत्र के कमलेश कश्यप जिसकी उम्र 11 साल है। 12 अगस्त को अपने 2 दोस्तो के साथ दोपहर को मवेशी चराने गांव से करीबन 1 किलोमीटर बाहर गया हुआ था। इस दौरान बालक कमलेश कश्यप मुरूम खदान में खोदे गए गड्ढे में भरे 9 फ़ीट पानी में उतर गया,  गहराई अधिक होने से कमलेश की डूबने से मौत हो गई। वही साथ गए दूसरे बच्चों ने कमलेश की मृत्यु की सूचना मृतक के पिता को दी, जिसके बाद सभी वहाँ जाकर शव को बाहर निकाला गया, और अस्पताल ले जाया गया, जहाँ चिकित्सको ने उसे मृत घोषित कर दिया।

पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करने के बाद परिजनों को सौंप दिया, लेकिन कोई भी बालक के शव को ले जाने को तैयार नहीं था, जिसकी जानकारी लगने के बाद बकावण्ड चौकी प्रभारी मनोज तिर्की ने वाहन की व्यवस्था करने के साथ कफन दफन का सामान भी परिजनों को उपलब्ध कराया। थाना प्रभारी के इस नेक कृत्य को लेकर आमजन ने उनकी सराहना की।