कॉर्पोरेट

रायपुर संभाग

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

रायपुर । कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) छत्तीसगढ़ चेप्टर द्वारा आयोजित नेशनल ट्रेड एक्सपो 2019 में लोगों को कई तरह ऑफर्स मिल रहे हैं। मार्केट से हटकर बेस्‍ट डील मिलने की वजह से लोग ट्रेड एक्‍सपो में पहुंच रहे हैं। यहां कई प्रांतों के स्टाल शामिल हैं। जो कि इस बात को साबित करने के लिए काफी है कि यह वाकई नेशनल फेयर हैं। रविवार को विभिन्न सेक्टर के संगठन प्रमुखों ने मंच साझा किया और उद्योग-व्यापार की बेहतरी के लिए ऐसे आयोजनों के संदर्भ में अपने विचार रखे। अवकाश का दिन होने से आज सुबह 11 बजे से ही लोगों के एक्सपो पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया था। देर शाम स्वराग इंडो वेस्टर्न फ्यूजन बैंड, जयपुर के धुन पर रायपुरियंस जमकर थिरके।


यहां कई स्‍टॉल्‍स पर लोगों को पसंद के प्रोडक्‍ट्स मिल रहे हैं। निरंकारी फर्नीचर के स्‍टॉल पर भी लोगों को लेटेस्‍ट डिजाइंस और ट्रेंड के प्रोडक्‍टस मिल रहे हैं, लिहाजा भीड़ यहां पहुंच रही है।


एक्सपो में छत्तीसगढ़ के अलावा गुजरात, राजस्थान, महाराष्ट्र, उत्तरप्रदेश, उत्तराखंड, मध्यप्रदेश समेत कई राज्यों के स्टॉल होल्डर्स पहुंचे हुए हैं। फतेहपुर सीकरी की नाम संगमरमर की कारीगरी के लिए मशहूर है नेचुरल हैंडीक्राफ्ट के स्टॉल में फहीम-नवाब भाई ने बताया कि खास यह है कि विभिन्न बड़ी मूर्तियां एक ही पत्थर से तराशे गए हैं। शेर, गाय-बछड़ा, फाउंटेन जैसे कलाकृतियों की सुंदरता व फिनिशिंग काफी आकर्षक है। यह घर-प्रतिष्ठानों में ही नहीं बल्कि कार्पोरेट सेक्टर में काफी अधिक पसंद किए जा रहे हैं। गुजरात के वाकानेर से आए मिट्टीकुल के स्टॉल में मिट्टी से बने विभिन्न होम एप्लांयसेस के प्रोडक्ट जिनमें कप प्लेट से लेकर रोटी बनाने के तवे तक शामिल हैं। मिट्टी की वास्तविक कलर इसकी सुंदरता को बढ़ा रहे हैं। खादी अब महज पहनावा नहीं फैशन भी बन चुका है यह मेरठ से आए खादी कपड़ों के स्टॉल पर देखा जा सकता है। महिलाओं की पसंदीदा जरीयुक्त पेंचवर्क में कई आकर्षक डिजाइनों के पर्स लेकर पहुंचे हैं सुरेन्द्रनगर (गुजरात) के स्टॉल होल्डर्स। उत्तराखंड के हैंडीक्राप्ट, जयपुर की जूती से लेकर हर किसी के लिए हर प्रकार के सामान एक्सपो में उपलब्ध हैं।

एक्सपो में आज क्रेडाई के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष  आनंद सिंघानिया, फाडा के राष्ट्रीय सचिव मनीषराज सिंघानिया, छग चेंबर ऑफ कामर्स के अध्यक्ष जितेन्द्र बरलोटा, क्रेडाई छग चेप्टर के अध्यक्ष शैलेष वर्मा, कम्प्यूटर डीलर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष दीपक विधानी, पंकज इस्पात के एमडी पंकज अग्रवाल, स्वास्तिक गु्रप के एमडी नरेन्द्र अग्रवाल प्रमुख रूप से उपस्थित थे। उन्होंने इस बात पर खुशी जताई कि सेंट्रल इंडिया में इस प्रकार का पहली बार कोई फेयर लगा होगा जो सभी दृष्टिकोण से लाभकारी है और सारे ट्रेड को एक बड़ा प्लेटफार्म उपलब्ध करा रहे हैं।

सिंहदेव ने एक्सपो को सराहा

प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कैट के द्वारा आयोजित एक्सपो के आयोजन को बड़ी जिम्मेदारी और उद्देश्य भरा बताते हुए आयोजकों को बधाई दी। मिठाई से लेकर आइसक्रीम और जितने भी स्टाल में उन्होंने जाकर देखा सभी बहुपयोगी हैं। इनके आधार पर रोजगार के अवसर उपलब्ध हो सकते हैं। छत्तीसगढ़ की प्रगति व संभावनाओं की पूरी झलक एक्सपो में प्रदर्शित हो रहा है। छत्तीसगढ़ सरकार नई उद्योग नीति बनाएगी इसमें उद्योग व्यापार सेक्टर के प्रतिनिधियों से सुझाव आमंत्रित करेंगे।

कॉर्पोरेट

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

नई दिल्ली। स्मार्टफोन आज की जनरेशन का अभिन्न अंग बन गया है। इसकी उपयोगिता इतनी बढ़ गयी है कि छोटे बच्चों से लेकर बूढ़े भी इसका इस्तेमाल कर रहे हैं। देश में स्मार्टफोन के मार्केट में सभी कंपनियों के बीच होड़ लगी हुई है। एक रिपोर्ट के अनुसार सैमसंग कंपनी 37,000 करोड़ रुपए की कमाई के साथ पहले स्थान पर है। देश के स्मार्टफोन मार्केट में 5 टॉप कंपनियों का 75% से ज्यादा शेयर रहा है। बाकी 25% में 88 स्मार्टफोन कंपनियां शामिल हैं।

पैनासोनिक और वीडियोकॉन भी इन्हीं में शामिल है। वित्त वर्ष 2017-18 में इन 88 कंपनियों का कुल रेवेन्यू 43,560 करोड़ रुपए रहा। वित्त वर्ष 2017-18 में श्याओमी ने 23,000 करोड़ का रेवेन्यू के साथ दूसरे तो ओप्पो 12,000 करोड़ के साथ तीसरे नम्बर पर रहा। इसके अलावा वीवो को 11,000 करोड़ रुपए की आय हुई।

मार्केट रिसर्च फर्म साइबर मीडिया के हेड इंडस्ट्री इंटेलीजेंस ग्रुप प्रभु राम का कहना है कि टॉप-5 ब्रांड के प्रति ग्राहकों की दिलचस्पी बढ़ने से बाकी कंपनियों के लिए संभावनाएं कम हुई हैं। हालांकि, चीन की कंपनियों के पास फंड की कमी नहीं होने की वजह से भारत का बाजार उनके लिए आकर्षक बना रहेगा। साइबर मीडिया रिसर्च की एनालिस्ट इंडस्ट्री इंटेलीजेंस ग्रुप स्वाति कालिया के मुताबिक चीन की कंपनियां कंपीटीशन में बनी रहेंगी।

आईडीसी की रिपोर्ट के मुताबिक 2018 में भारत का स्मार्टफोन मार्केट 14.5% की दर से बढ़ा। पिछले साल कुल 14.23 करोड़ स्मार्टफोन बिके। पिछले साल श्याओमी का मार्केट शेयर सबसे ज्यादा 28.9% रहा। इस मामले में सैमसंग 22.4% के साथ दूसरे नंबर पर और वीवो 10% के साथ तीसरे स्थान पर रहा।

रायपुर

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

रायपुर। कैट छत्तीसगढ़ चैप्टर द्वारा आयोजित पांच दिवसीय नेशनल ट्रेड एक्सपो 2019 का उद्घाटन केबिनेट मंत्री मोहम्मद अकबर महापौर प्रमोद दुबे, विधायक कुलदीप जुनेजा, विधायक विकास उपाध्याय की उपस्थिति में हुआ। इस दौरान पुलवामा में हुए आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों की शहादत में एक्सपो में पहुंचे सभी लोगों ने दो मिनट का मौन रखकर शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी। कैट ने शहीद परिवारों के नाम मुख्यमंत्री राहत कोष में एक लाख रुपए का चेक दिया।

कैट के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अमर परवानी ने कश्मीर के पुलवामा में हुई घटना पर दुख जताते हुए कहा कि-‘पूरा कैट परिवार समेत देशवासी शहीद जवानों के साथ हैं। चूंकि कैट के सी.जी. चेप्टर की ओर से पांच दिन के नेशनल ट्रेड एक्सपो का आज शुभारंभ होना था लेकिन दुख की इस घड़ी में केवल औपाचारिक उद्घाटन करने के साथ शेष अन्य सारे कार्यक्रम शोक में स्थगित कर दिए गए हैं। ऑटोमोबाइल में नए वाहनों की लांचिंग व सांस्कृतिक कार्यक्रम भी स्थगित कर दिए गए हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी शोक संवेदना व्यक्त करते हुए एक्सपो में किसी और दिन आने का आश्वासन दिया और आयोजन को सादगी के साथ शुरूआत करने के लिए अपना संदेश भेजा।’

इस दौरान कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अमर पारवानी, प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष मंगेलाल मालू, विक्रम सिंहदेव, प्रदेश महामंत्री जितेन्द्र दोशी, कार्यकारी महामंत्री परमानंद जैन, प्रदेश कोषाध्यक्ष अजय अग्रवाल, प्रवक्ता राजकुमार राठी, कैलाश खेमानी, नरेन्द्र दुग्गड़, राकेश ओछवानी, अजय तनवानी, राम मंधान, भरत जैन, वासु माखीजा, नरेश चंदानी, कन्हैया गुप्ता, जितेन्द्र गोलछा, संजय जादवानी, जनक वाधवानी, विजय शर्मा, रोहित सिंघानिया समेत सभी पदाधिकारियों, स्टॉल होल्डर्स व एक्सपो में पहुंचे विजिटर्स भी उपस्थित थे।

Tags: ,

छत्तीसगढ़

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

रायपुर। पुलवामा हमले के खिलाफ 18 फरवरी को भारत बंद का आव्हान किया गया है। भारत बंद को छत्तीसगढ़ चेम्बर ऑफ कॉमर्स ने भी समर्थन दिया है। व्यापारियों की एक संस्था कैट पहले ही बंद को समर्थन दे चुकी है। भारत बंद का असर छत्तीसगढ़ में भी देखने को मिलेगा। प्रदेश की दो व्यवसायिक संस्था कैट और चेंबर ऑफ कॉमर्स ने छत्तीसगढ़ बंद को समर्थन दे दिया है।  

चेम्बर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष जितेन्द्र बरलोटा ने आतंकी संगठन पुलवामा में कायरतापूर्वक हमले की कड़ी निंदा की है और कहा कि 18 तारीख को भारत बंद का समर्थन करते हुए सभी व्यापारी घड़ी चौक में श्रद्धांजलि देंगे। 

कैट के प्रदेश प्रवक्ता राजकुमार राठी ने बताया कि जम्मू कश्मीर के पुलवामा में 15 फरवरी को हमले में शहीद हुए सैनिको की शहादत के विरोध में छत्तीसगढ़ कैट द्वारा प्रदेश बंद का आह्वान किया गया है, जिसे रायपुर की सभी व्यापारिक एसोसिएशन ने समर्थन दिया है। 

राठी ने बताया कि 18 फरवरी को दोपहर 12:30 बजे रायपुर शहर के घड़ी चौक में प्रदेश अध्यक्ष अमर पारवानी की अगुवाई में श्रद्धांजलि सभा आयोजित की गयी है, जिसमें प्रमुख रूप से कार्यकारी अध्यक्ष मंगेलाल मालू, विक्रम सिंहदेव, जितेंद्र दोषी, परमानन्द जैन, अजय अग्रवाल, विजय शर्मा, राकेश ओछ्वानी, अजय तनवानी, रोहित सिंघानिया, संतोष श्रीवास्तव, अमरदास खट्टर, कन्हैया गुप्ता, मो.आसिफ खान, सतीश श्रीवास्तव, दिनेश पटेल, राम मंधान, रतनलाल अग्रवाल, जय नंवानी, बलराम आहूजा, वासु माखीजा, नरेश गंगवानी, कैलाश खेमानी, जयराम कुकरेजा उपस्थित रहेंगे।

दुर्ग संभाग

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

By रमेश गुप्ता

भिलाई। भिलाई इस्पात संयंत्र से निकलने वाले गंदे पानी से नालों का पानी दूषित हो रहा है। संयंत्र से निकलने वाले गंदे पानी को बिना ट्रीटमेंट के नालों में छोड़ना गैर जिम्मेदाराना और अवैधानिक कृत्य है।  इस मामले में नगर पालिक निगम भिलाई के आयुक्त एसके सुंदरानी ने भिलाई इस्पात संयंत्र के सीईओ को नोटिस भेजा है।

भिलाई इस्पात संयंत्र से निकलने वाले गंदे पानी को कोसा नाला और तेल्हा नाला में छोड़ा जाता है। पानी के परीक्षण रिपोर्ट के अनुसार यह नालों को दूषित कर रहा है क्योंकि बिना किसी ट्रीटमेंट के इसे नालों में प्रवाहित किया जा रहा है। किसी विषैले या प्रदूषक पदार्थ जो कि मानकों के अनुरुप न हो किसी भी नदी, कुएं या सार्वजनिक जल स्त्रोत में नहीं छोड़ा जा सकता है।

नगर निगम मुख्य कार्यालय में बीएसपी के अधिकारियों के साथ 3 बार इस मामले में बैठक भी ली जा चुकी है उसके बाद भी बीएसपी प्रशासन ने गंदे पानी के समुचित उपचार की व्यवस्था के संबंध में कार्यवाही नहीं की। संयंत्र से निकलने वाले प्रदूषित जल को उपचार के बाद ही नालों में छोड़े जाने की जल्द से जल्द कार्यवाही सुनिश्चित करने और कृत्य कार्यवाही से इस कार्यालय को अवगत कराने हेतु बीएसपी प्रशासन को पत्र लिखा गया है।

बता दें कि बेलोदी के पास नाले में प्रदूषित जल होने के कारण वहां आसपास बीमारी फैल रही है। अपशिष्ट जल निराकरण, शुद्धिकरण किये जाने की त्वरित कार्यवाही किये जाने की आवश्यकता है। इससे पर्यावरण को होने वाली क्षति एवं संक्रामक बीमारियों से निजात मिल सकेगी।

The Voices FB