By अरुण कुमार

बलरामपुर। नक्सलियों की गोली से शहीद हुए इंस्पेक्टर को श्रद्धांजलि देने एवं ग्रामीण स्तर के प्रतिभा को निखारने के लिए बलरामपुर जिले में पुलिस विभाग की तरफ से क्रिकेट मैच का आयोजन किया जा रहा है। शहीद उपनिरीक्षक मसीह भूषण लाकड़ा की स्मृति में क्रिकेट मैच का उदघाटन आज किया गया, जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में सामरी विधायक चिंतामणी महाराज उपस्थित रहे। कार्यक्रम में अध्यक्ष के रुप में शहीद की पत्नि अविनाशी लाकड़ा मौजूद रहीं।



गौरतलब है कि उपनिरीक्षक मसीह भूषण लाकड़ा झारखंड पुलिस में पदस्थ थे और साल 2001 में नक्सलियों ने घेरकर उन्हें गोली मार कर उनकी हत्या कर दी थी। मसीह भूषण लाकड़ा की वीरता को सम्मानित करते हुए झारखंड सरकार ने उन्हें झारखंड मुख्यमंत्री पदक से सम्मानित किया था। उन्हीं की याद में बलरामपुर पुलिस ने एक टूर्नामेंट का आयोजन किया है, जिसमें जिले की 32 टीमों ने हिस्सा लिया है। शहीद की पत्नि ने बताया की मसीह भूषण लाकड़ा को खेल से बहुत प्यार था। वो जब भी राजपुर आते थे, उन्हें खेलने के लिए बुलाया जाता था। शहीद होने के बाद भी उन्हें खेल के माध्यम से याद किया जा रहा है ये एक अच्छी पहल है।

पुलिस के इस प्रयास को विधायक और स्थानीय लोगों की भी काफी सराहना मिल रही है। विधायक की मानें तो शहीदों ने अपनी जान देकर देश की इज्जत बचाई है उन्हें हमेशा याद करते रहना चाहिए। वहीं भाजपा जिलाध्यक्ष की मानें तो पुलिस के इस प्रयास से शहीद को श्रद्धांजलि तो मिलेगी ही पुलिस और जनता के बीच मित्रवत व्यवहार भी बढ़ेगा। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक की मानें तो जिले में खेल को बढ़ावा देने और शहीदों को श्रद्धांजलि देने के लिए क्रिकेट के साथ कबड्डी और वॉलीबाल का भी आयोजन किया जा रहा है।

आज का पहला मैच नागरिक एकादस और प्रशासन के बीच खेला गया, जिसमें नागरिक की टीम 14 रनों से विजयी रही। उद्घाटन सेरेमनी में शहीद की पत्नी को शॉल और श्रीफल देकर सम्मानित किया गया वहीं विजेता और उपविजेता टीम को ट्रॉफी देकर पुरस्कृत किया गया। उद्घाटन मैच में एडिशनल एसपी डॉ पंकज शुक्ल, एसडीओपी एनएल घृतलहरे, थाना प्रभारी सैफ सिद्दकी सहित सभी विभाग के अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे।