नई दिल्ली। देश की पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का पूरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। लोधी रोड स्थित शवदाह गृह में उन्हें अंतिम विदाई दी गई। उनकी बेटी बांसुरी ने मुखाग्नि दी। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, लालकृष्ण आडवाणी, अमित शाह, राजनाथ सिंह समेत बड़ी संख्या में जानी-मानी हस्तियां मौजूद थीं।

इससे पहले सुषमा स्वराज को श्रद्धांजलि देने बड़ी संख्या में लोग पहुंचे। इनमें भाजपा सहित विपक्ष के नेता व जानी-मानी हस्तियां शामिल थीं। सुबह सुषमा स्वराज का पार्थिव शरीर अंतिम दर्शन के लिए उनके निवास स्थान में रखा गया था, जहां प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सहित बड़ी संख्या में लोग भाजपा नेत्री को श्रद्धांजलि देने उनके आवास पहुंचे थे। सुषमा स्वराज का अंतिम दर्शन कर प्रधानमंत्री भावुक हो गए थे। इसके बाद दोपहर 12 बजे सुषमा स्वराज का पार्थिव शरीर अंतिम दर्शन के लिए भाजपा मुख्यालय में रखा गया, जहां पार्टी के नेता और कार्यकर्ता सहित बड़ी संख्या में लोगों ने उन्हें श्रद्धांजलि दी और उनके अंतिम दर्शन किए। इसके बाद उनका पार्थिव शरीर अपराह्न तीन बजे लोदी रोड स्थित विद्युत शवदाह गृह ले जाया गया, जहां उनका पूरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया।

बता दें कि पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का मंगलवार रात निधन हो गया था। दिल का दौरा पड़ने से उन्हें दिल्ली एम्स लाया गया था। यहां उपचार के दौरान उन्होंने अंतिम सांस ली। वे 67 वर्ष की थीं। पिछले कुछ दिनों से उनकी तबियत खराब थीं।