पुनेश यादव

कांकेर पुलिस ने मनीष पांडे हत्याकांड की गुत्थी सुलझा ली है और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। हत्यारा कोई और नहीं बल्कि मृतक का दोस्त ही निकला। पुलिस ने साइबर सेल की मदद से हत्यारे का पता लगा लिया।

यह घटना भानुप्रतापपुर के नयापारा की है, जहां मृतक मनीष पांडे के घर की छत पर आरोपी ने आईपीएल सट्टा में जीते हुए 20 हजार रूपये ना देने पर मनीष पांडे की बैट और लकड़ी के बत्ते से से मारकर हत्या कर दी थी। जिसके बाद आरोपी फरार हो गया था। पुलिस ने कॉल डिटेल के आधार पर आरोपी को हिरासत में लेकर पूछताछ के दौरान आरोपी ने अपना गुनाह कबूल कर लिया। आरोपी के खिलाफ अपराध दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है।

पुलिस की इस कामयाबी पर एसपी केएल ध्रुव ने भानुप्रतापपुर थाना प्रभारी रविंद्र मंडावी, कोड़ेकुर्सी प्रभारी रामनारायण ध्रुव, थाना प्रभारी लोहत्तर उत्तम तिवारी, दुर्गकोंदुल प्रभारी शिव खूंटे, दमकसा चौकी प्रभारी पारस पटेल, कच्चे चौकी प्रभारी छत्रपाल कंवर, उप निरीक्षक ललित सिंह नेगी, उप निरीक्षक मान कुंवर टेकाम, साइबर सेल प्रभारी होमचंद नगरची, शैलेंद्र साहू, दिनेश ध्रुव को हत्याकांड की गुत्थी 24 घंटे में सुलझाने के लिए नगद पुरस्कार देने की घोषणा की है।