रायपुर। मढई कार्यक्रम में शामिल होने गये छात्रों को बेरहमी से पीटे जाने के विरोध में इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के छात्रों ने नारेबाजी करते हुए धरने पर बैठ गए है। जानकारी के आनुसार जगदलपुर में शहीद गुंडाधर कृषि महाविद्यालय के मढई कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे  विश्वविद्यालय के छात्रों को वहां के प्रोफेसर और छात्रों द्वारा  बेरहमी से पीटे जाने को लेकर विरोध करते हुए नारेबाजी के साथ धरने पर बैठ गए है। विश्वविद्यालय द्वारा  शीघ्र कार्रवाई नहीं करने पर छात्रों ने यहां ताला जड़ दिया है।

इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के परिसर में नारेबाजी करते हुए छात्र-छात्राएं सुबह से धरने पर बैठे हुए हैं।  छात्रों ने कहा कि हमारी मांग है कि मारपीठ और गंदे तंज कसने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाए।  विश्वविद्यालय ने इस मामले में अभी तक कोई सुध नहीं ली है।  जब तक कार्रवाई नहीं होगी तब तक प्रदर्शन जारी रहेगा।

जानकारी के अनुसार छात्र-छात्रों ने बताया कि जगदलपुर शहीद गुंडाधर कृषि महाविद्यालय में आयोजित मढई कार्यक्रम में रायपुर से शामिल होने वाले छात्र - छात्राओं के साथ बत्तमिजी की जिसका विरोध करने पर वहां के अध्यापक और छात्रों ने मारपीठ की।  इसके साथ ही उन्होंने धमकी  भी दी कि ये बस्तर है नक्सली क्षेत्र है यहां से बाहर नहीं जा पाओगे।  जिसके विरोध में आज ये प्रदर्शन जारी है।  हम मांग करते है कि मारपीठ और गंदे गंदे तंज कसने वालों पर कार्रवाई हो।  प्रदर्शन करते छात्रों ने बताया की कृषि विश्वविद्यालय रायपुर के सांस्कृतिक दूतों के साथ अनैतिक व्यवहार किया गया और प्रतिभागी छात्र-छात्राओं को बिना किसी आधार के पुलिस गाड़ी में बिठाकर उनके भविष्य बिगाड़ने की धमकियां भी दी गई।