नक्सल

नक्सल
Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

सलमान खान

सुकमा। पुलिस को एक बड़ी सफलता हाथ लगी है। शासन की रीति नीति से प्रभावित होकर एक 3 लाख और दो एक-एक लाख के इनामी नक्सलियों ने पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण किया है।सुकमा में रविवार को 7 नक्सलियों ने समर्पण किया है। एसपी एसपी शलभ सिन्हा ने बताया कि सोढ़ी जोगा, नक्सलियों के प्लाटून नंबर 24 का सदस्य है, इस पर दो लाख का इनाम घोषित है।

एसपी के मुताबिक जोगा 2008 में नक्सली संगठन में शामिल हुआ और 2014 में चोलनार आइईडी ब्लास्ट में शामिल था। समर्पण करने वाले अन्य सोढ़ी एर्रे पर एक लाख का इनाम घोषित है। यह महिलाओं को संगठन में जोड़ने का काम करती थी। पोड़ियम नंदा मिलिशिया प्लाटून सेक्शन ए कमांडर पेददाबोड़केल आरपीसी पर भी एक लाख का इनाम घोषित है। 1998 में संगठन में शामिल और नक्सलियों की वर्दी सिलने वाले मड़कम लक्खा पर भी एक लाख का इनाम घोषित है। समर्पण करने वालों में मुचाकी बुधरा,सोड़ी गंगा भी शामिल हैं।

एसपी ने बताया कि नक्सली पोड़ियम नंदा की निशानदेही पर कोंटा एरिया में पुलिस ने छापा मारकर 35 किलो की 19 जिलेटिन बरामद की गई है। यह विस्फोटक सामग्री क्रशर प्लांट से थोड़ी मात्रा में एकत्रित कर नक्सलियों को सप्लाई की जाती है।

नक्सल
Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

संतोष ठाकुर

जगदलपुर। नक्सली शहीद सप्ताह के ठीक एक दिन पहले पुलिस व नक्सलियों के बीच हुई मुठभेड़ में 7 नक्सलियों के मारे गये। मुठभेड़ में पुलिस को और भी 5-6 नक्सलियों के मारे जाने के प्रमाण मिले हैं।  घटना स्थल से पुलिस ने शव समेत बंदूक और भारी मात्रा में विस्फोटक सामान बरामद किया है।

यह घटना नगरनार थाना क्षेत्र की है, जहाँ मुठभेड़ में 7 वर्दीधारी नक्सली मारे गए, जिनकी शिनाख्त की जा रही है। बस्तर आईजी विवेकानंद सिंहा ने बताया कि सूचना मिली थी कि उड़ीसा सीमा से लगे ग्राम तिरिया के जंगल में शहीद सप्ताह में बड़ी वारदात को अंजाम देने की फिराक में काफी संख्या में नक्सली एकत्र हुए हैं। फौरन ही नगरनार थाने से एसटीएफ, डीआरजी एवं डीएफ का संयुक्त पुलिस बल गश्त सर्चिंग के लिए रवाना किया गया, जिसने योजनाबद्ध तरीके से इलाके की घेराबंदी शुरू कर दी। पुलिस की मौजूदगी भांपकर नक्सलियों ने गोलीबारी शुरू कर दी। जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने भी फौरन मोर्चा संभालते हुए फायरिंग की। लगभग एक घंटे की मुठभेड़ बाद अंतत: नक्सली घने जंगल और पहाड़ी की आड़ लेकर भाग गए। 

उन्होंने बताया कि घटना स्थल पर मौजूद साक्ष्य, खून के धब्बे एवं घसीटे जाने के निशान से यह साबित होता है कि कम से कम 5 से 6 और नक्सली मारे गए हैं और कई लहुलूहान हुए हैं।  साथियों के शव नक्सली अपने साथ ले जाने में कामयाब रहे।

आईजी सिन्हा ने बताया कि मौके से 7 वर्दीधारी नक्सलियों के शव बरामद किए गए हैं, जिनकी शिनाख्त की जा रही है। घटनास्थल की सर्चिंग के दौरान इंसास रायफल, 303 रायफल, 12 बोर भरमार बंदूक, बैनर, पोस्टर, दवाईयां, गोला-बारूद, डेटोनेटर, बिजली के तार, बैटरी, दैनिक उपयोग के सामान तथा नक्सली साहित्य का जखीरा बरामद किया गया है।

नक्सल
Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

लोकेश झाड़ी

बीजापुर। पुलिस ने जेल ब्रेक के मास्टर माइंड को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। जानकारी के अनुसार गिरफ्तार नक्सली पर 3 लाख का ईनाम है। इसके अलावा माओवादी पर हत्या, अपहरण, और आगजनी जैसी वारदातों को अंजाम देने का आरोप है।  

यह घटना भैरमगढ़ के बाजार की है, जहाँ से पुलिस ने दंतेवाड़ा जेल ब्रेक के मास्टर माइंड दीपक उर्फ मासू मड़कम को गिरफ्तार किया है मासू मड़कम कंपनी नंबर 2 का सदस्य और सेक्शन कमांडर के पद पर भी रह चुका है। गिरफ्तार माओवादी पर 3 लाख रुपये का इनाम है। ज़िला बल और DRG के जवानों की संयुक्त कार्यवाही के दौरान माओवादी को गिरफ्तार किया गया है।

The Voices FB

Click NowClick Now