जुर्म

जुर्म

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

अरुण कुमार

बलरामपुर। आर्म्स फ़ोर्स के जवान पर एक महिला आरक्षक ने दैहिक शोषण का आरोप लगाया है। महिला आरक्षक ने शादी का झांसा देकर दुष्कर्म का आरोप लगाया है। इसके अलावा जमीन खरीदने और उसके भाई की नौकरी लगाने के नाम पर लाखों रुपए ऐंठने का भी आरोप लगाया है।

यह घटना बलरामपुर जिले के रामानुजगंज के स्थापित छत्तीसगढ़ आर्म्स फोर्स की 12वीं बटालियन के जवान विजयशंकर पंत पर महिला आरक्षक ने दैहिक शोषण का आरोप लगाया है। आरोपी बटालियन में दूरसंचार विभाग में आपरेटर के पद में कार्यरत है। महिला आरक्षक जिला मुख्यालय में पदस्थ है और उसने रामानुजगंज थाना में लिखित शिकायत की है कि आरोपी विजयशंकर पंत ने शादी का झांसा देकर उसके साथ कई बार बलात्कार किया है और तीन बार उसका गर्भपात भी करा चुका है। महिला आरक्षक ने जब विजयशंकर पंत पर शादी का दबाव बनाया तो आरोपी ने शादी से मना कर दिया। महिला आरक्षक ने यह भी आरोप लगाया है कि सीएएफ के जवान ने न सिर्फ उसका दैहिक शोषण किया बल्कि जमीन खरीदने और उसके भाई की नौकरी लगाने के नाम पर लाखों रुपए भी ऐंठ लिए हैं।

महिला आरक्षक ने आरोप लगाया है कि आरोपी जवान उससे अब तक लगभग साढ़े चार लाख रुपए ले चुका है। आरोपी करगी रोड कोटा बिलासपुर का रहने वाला है और महिला आरक्षक को उपर अपनी पकड़ होने का भी झांसा देता था। लगातार गर्भपात से परेशान महिला आरक्षक ने जब सीएएफ जवान पर शादी का दबाव बनाया तो उसने शादी से मना कर दिया और पीड़िता को पता चला कि अभी उसने दूसरी लडकी से सादी रचा ली थी। जिसके बाद महिला आरक्षक ने मामले की लिखित शिकायत रामानुजगंज थाने में दर्ज कराई है, जिस पर पुलिस ने तत्काल मामला दर्ज करते हुए आरोपी सीएएफ जवान को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

जुर्म

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

संतोष ठाकुर

जगदलपुर। पिता के बड़े भाई ने अपने भतीजे की पत्थर से मारकर हत्या कर दी। जानकारी के अनुसार दोनों साथ बैठकर शराब पी रहे थे उसी समय किसी बात को लेकर दोनों में विवाद हो गया और पिता के बड़े भाई ने अपने भतीजे की पत्थर से मारकर हत्या कर दी।  पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार करते हुए उसे न्यायालय में पेश किया, जहाँ से उसे जेल भेज दिया गया।

यह घटना कोडेनार थाना क्षेत्र के ग्राम तिरथुम स्कूलपारा की है। मामले की जानकारी देते हुए कोडेनार थाना प्रभारी डिलेश्वर चंद्रवंशी ने बताया कि बीती रात को तिरथुम स्कूलपारा में कुमो पोयामी और उसके पिता के बड़े भाई लब्बा पोयामी साथ बैठकर शराब पी रहे थे। इस दौरान कुमो के द्वारा और शराब मांगने पर लब्बा को गुस्सा आ गया और दोनों के बीच लड़ाई शुरू हो गई, जिसके बाद कुमो वहां से जाने लगा। गुस्से के चलते लब्बा ने बड़ा सा पत्थर उठाकर कुमो के सिर व पीठ में मार दिया, जिससे कुमो कि मौके पर ही मौत हो गई।

घटना के बाद आरोपी फरार हो गया। परिजनों ने घटना की जानकारी थाने में दर्ज कराई, जिसके बाद पुलिस ने कुछ घंटों के अंदर ही आरोपी को पकड़ लिया, और उसे न्यायालय में पेश किया गया, जहाँ से उसे जेल भेज दिया गया है।

बस्तर संभाग

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

संतोष ठाकुर

जगदलपुर। अनाथ आश्रम के बच्चों के नाम पर जबरदस्ती चंदा मांगने वाले 2 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। बताया जा रहा है कि आरोपी पंचायत को बताये बिना अवैध चंदा के रूप में पैसो की उगाही कर रहे थे।

यह घटना परपा थाना क्षेत्र के तोकापाल की है, जहाँ मध्यप्रदेश के 2 युवक गांव वालों से अनाथ आश्रम के बच्चों के नाम पर चंदा माँग रहे थे और चंदा नहीं देने पर जबरन दबाव बना रहे थे, जिसके बाद गांव वालों ने इसकी शिकायत 112 डायल से की। पुलिस मौके पर पहुंची और आरोपियों को अपने साथ लेकर चली गई।

पुलिस ने मामले के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि ग्रामवासी और ग्राम सरपंच ने बताया गया कि आज सुबह 12 बजे के लगभग ग्राम पखनारचा, बांडापारा के ग्रामीणों ने डायल 112 को सूचना दी कि 2 युवक मोटरसाइकिल में सवार होकर गांव पहुँचे, जहाँ युवक द्वारा बगैर थाना को सूचना दिए और पंचायत को बताए बिना ग्रामवासी से अनाथ आश्रम के लिए अवैध चंदा के रूप में पैसो की उगाही कर रहे थे। दोनों युवकों को थाने में सौंप दिया गया है।

परपा थाना प्रभारी ने बताया कि ये युवक गांव वालों से 10-50 रुपये नहीं बल्कि बड़ी रकम की डिमांड कर रहे थे। जिसके बाद गांव वालों को धमकाया भी जा रहा था।  बाद ड्यूटी में आर.चंद्रशेखर जांगड़े, म.आर. सरिता नेताम और चालक रामलाल ठाकुर ने दोनों को थाना प्रभारी को सौंप दिया है।

जुर्म

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

संतोष ठाकुर

जगदलपुर। ठेकेदार द्वारा ज्यादा पैसे के लालच में 3 नाबालिग और 1 बालिग को फंसाने का मामला सामने आया हैl जानकारी के अनुसार ठेकेदार उन लोगों को बोरवेल कंपनी में काम दिलाने के लिए गया, जहाँ बोरवेल मालिक चारों लोगों से 18 घंटे से ज्यादा काम करवाने के साथ मानसिक रूप से प्रताड़ित भी करता थाl

यह घटना दरभा थाना क्षेत्र के तीरथगढ़ का है, जहाँ रमेश नाम का एक युवक चार लोंगों को, जिसमें 3 नाबालिग और 1 बालिग को ज्यादा पैसे दिलाने और काम दिलवाने के चेन्नई लेकर गयाl चेन्नई में रमेश ने सिल्ली अम्मन बोरवेल कंपनी के महादेवन के पास चारों को छोड़ अपने गांव वापस आ गयाl महादेवन चारों लोगों से 18 घंटे से ज्यादा काम और मानसिक रूप से प्रताड़ित करता था, जिससे परेशान होकर चारो में से एक धनसिंग नाम का मजदूर भाग कर गांव आ पहुंचा और परिजनों को इसकी सूचना दीl इसके बाद परिजनों ने नाबालिगों को बचाने के लिए दरभा पुलिस के सामने गुहार के लगायी, जिसके बाद पुलिस ने एक टीम बनाकर चेन्नई भेजा था जहां आरोपी के साथ नाबालिगों को भी जगदलपुर लाया गयाl

थाना प्रभारी लालजी सिन्हा ने बताया कि एएसआई भुनेश्वर चंद्रवंशी, प्रधान आरक्षक घनश्याम मेश्राम की एक टीम बनाकर चेन्नई भेजा गया था, जहां से रमेश को गिरफ्तार किया गया और वहाँ काम कर रहे 2 नाबालिग व 1 बालिग को अपने साथ लेकर आयेl महादेवन मौके से फरार हो गया था, जिसके बाद से पुलिस महादेवन की तलाश कर रही हैl आरोपियों के खिलाफ अपराध दर्ज कर लिया गया है और आरोपी रमेश को आज जगदलपुर के न्यायालय में पेश किया गयाl

जुर्म

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

संतोष ठाकुर

जगदलपुर। एक नाबालिग से कुछ मनचले लड़कों द्वारा छेड़खानी का मामला सामने आया है। घटना की सूचना मिलने पर 112 की टीम मौके पर पहुंची। 112 की गाड़ी देख आरोपी फरार हो गए। पुलिस ने जब नाबालिग पीड़िता से पूछताछ की तो पता चला कि वह मूक बधिर हैl

मामले के बारे में जानकारी देते हुए पुलिस ने बताया कि आज सुबह 7 बजे बोधघाट बाईसन 1 सूचना मिलने पर नया बस स्टैंड पहुंची, जहां 17 वर्ष की किशोरी बैठी हुई थी, जहां सुबह 5 बजे कुछ मनचले लड़के लड़की के आस-पास मंडराते हुए उसे परेशान करने की कोशिश कर रहे थेl

112 की टीम के पहुंचने पर असामाजिक तत्व वहाँ से फरार हो गए जिसके बाद पुलिस नाबालिग को थाना बोधघाट थाना लेकर पहुंचीl  मूक बधिर होने के कारण पुलिस द्वारा नाम पता पूछने पर नहीं बता पा रही थी। उसने अपना नाम लिखकर गायत्री बताया और इसके आलावा लड़की कुछ नहीं लिख पाई। पुलिस नाबालिग के घर का पता तलाश करने में जुट गयी है।

The Voices FB