भुवनेश्वर। जादू टोना करने के संदेह में पिता-पुत्र की निर्मम हत्या कर दी गई है। इस घटना में दो लोगों ने आत्मसमर्पण कर दिया है। मैथिली थाना वहीं पुलिस अपराध दर्ज करते हुए मामले की छानबीन कर रही है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यह घटना मालीगुडा गांव की है, जहाँ सदन माली और उसके बेटे नीलेंद्र माली की हत्या कर दी गई। जानकारी के मुताबिक सदन के परिवार को गांव वालों ने 3 साल पहले गांव से बहिष्कृत करते हुए उससे उसे सभी प्रकार के संपर्क तोड़ लिए थे। गांव वालों ने इस परिवार पर आरोप लगाया था कि आप परिवार जादू टोना करता है। गांव के पास नदी किनारे से इन दोनों बाप-बेटे का शव उद्धार किया गया है।

अभी बीते दिनों गंजाम जिले में जादू टोने और अंधविश्वास के चलते छह बुजुर्ग व्यक्तियों पर अमानवीय अत्याचार करने का मामला सामने आया था। इस मामले में गांव के दस लोगों को गिरफ्तार किया गया था। जादू टोने के संदेह में गांव वालों ने बुजुर्ग व्यक्ति के दांत तोड़ उसे जबरन विष्ठा खाने के लिए मजबूर किया था, बाद में पुलिस के दखल देने के बाद बुजुर्ग व्यक्ति को इलाज के लिए अस्पताल भेज दिया गया था।