रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी को अब कोरोना की राजधानी कहा जा रहा है। कोविड संक्रमित लोग यहां-वहां घुम रहे हैं। क्या पता कोई आपके संपर्क में भी आया हो। रायपुर से एक संक्रमित बिना किसी को बताए शहर में घूमकर दुर्ग चला गया तो दूसरा घर पर नहीं है। स्वास्थ विभाग और नगर निगम की टीम इन्हें ढूंढ रही है। स्थिति यह है कि पुलिस को दोनों के खिलाफ एफआईआर तक करनी पड़ी है।  

नगर निगम के जोन पांच के कर्मचारी संजय कुमार बघेल ने एफआईआर दर्ज करवाई है। एफआईआर आशीष  शर्मा और ओंकार देवांगन नाम के लोगों के खिलाफ हुई है।इन दोनों के नगर निगम अस्पताल जाने को कह रही थी । मगर अपने पते और मोबाइल की गलत जानकारी देकर यह दोंनो लापता हो गए। आशीष तो मनमानी करते हुए दुर्ग तक चले गए थे। ओंकार देवांगन को भी जब टीम लेने पहुंची तो वह घर पर नहीं मिले। अब इनकी तलाश और परिवार के लोगों से संपर्क कर दोनों को ही अस्पताल में ले जाने की कवायद जारी है। रायपुर में 278 लोगों की अब तक कोरोना से मौत हो चुकी है। बीते 24 घंटे में 1015 लोग रायपुर में कोरोना संक्रमित मिले हैं।