रायपुर। छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य एवं पंचायत मंत्री टीएस सिंहदेव उर्फ टीएस बाबा अपने जिंदादिली के लिए लोगों के बीच जाने जाते हैं। बाबा के नाम के मुताबिक बड़ी मिसाल पेश करते हुए नेत्रदान की घोषणा की है। टीएस ने इस निर्णय पर कहा कि जागरुकता लाने इस तरह का कदम मैंने लिया है। मेरी आंखों से किसी की अंधेरी दुनिया रोशन होगी।

सिंहदेव ने कहा कि मृत्यु के बाद भी यदि हमारा शरीर किसी के काम आ सके तो यह संतोष की बात है। नेत्रदान के प्रति भ्रांतियों को दूर करने की जरूरत है। इसमें एक छोटा सा कट लगाकर केवल आंख का कार्निया निकाला जाता है। इसमें किसी भी तरीके से आंख या शरीर क्षत-विक्षत नहीं होता। नेत्रदान के बाद आपकी आंखें किसी और की भी जिंदगी रोशन कर सकती हैं। आपको बता दें कि राज्य में सत्तारुढ़ दल के टीएस पहले मंत्री हैं न्त्रदान के प्रति जागरुकता लाने के लिए खुद नेत्रदान करने का फैसला लिया है।