नई दिल्ली। इंडियन प्रीमियर लीग सिर्फ दुनिया की सबसे बड़ी क्रिकेट लीग ही नहीं, बल्कि वो प्लेटफॉर्म है जो एक अनजान से खिलाड़ी को रातों-रात सुर्खियों में ला देती है। जयपुर में हुई आईपीएल ऑक्शन में एक अनजान खिलाड़ी वरुण चक्रवर्ती को किंग्स इलेवन पंजाब ने 8 करोड़ 40 लाख रु. की बड़ी कीमत में खरीदा। वरुण चक्रवर्ती एक स्पिनर हैं और उनका बेस प्राइस महज 20 लाख रु. था। अब आप सोच रहे होंगे कि आखिर क्या वजह थी कि किंग्स इलेवन पंजाब ने वरुण चक्रवर्ती को 42 गुना ज्यादा कीमत देकर खरीद लिया। आपको ये जानकर बेहद हैरानी होगी कि वरुण चक्रवर्ती ने महज 17 साल की उम्र में क्रिकेट छोड़ दिया था। इसका कारण हम आगे बता रहे हैं।

मिस्ट्री स्पिनर हैं वरुण चक्रवर्ती

तमिलनाडु के इस मिस्ट्री स्पिनर ने बेहद ही कम समय में घरेलू क्रिकेट में अपनी पहचान बना ली है। वरुण चक्रवर्ती ने तमिलनाडु प्रीमियर लीग में सिर्फ 9 मैचों में 22 विकेट लेकर सनसनी मचा दी थी। इसके बाद उन्हें विजय हजारे ट्रॉफी में खेलने का मौका मिला, जहां उन्होंने 4.7 के बेहद कम इकॉनमी रेट से 9 विकेट लिए। वो विजय हजारे ट्रॉफी के दूसरे सबसे कामयाब गेंदबाज रहे।

इसलिए वरुण चक्रवर्ती ने छोड़ दिया था क्रिकेट

वरुण चक्रवर्ती ने पढ़ाई के लिए क्रिकेट खेलना बंद कर दिया। 12वीं क्लास पास करने के बाद वरुण चक्रवर्ती ने 5 सालों तक आर्किटेक्ट की पढ़ाई की। इसके बाद उन्होंने नौकरी भी की, लेकिन उनका उसमें दिल नहीं लगा। इसके बाद 25 साल की उम्र में वरुण चक्रवर्ती ने दोबारा क्रिकेट मैदान पर कदम रखा। इसके बाद वरुण चक्रवर्ती ने पीछे मुड़कर नहीं देखा। अब वो आईपीएल में 8.4 करोड़ रु. में बिक गए। कौन जानता है कि अगर वो अच्छा प्रदर्शन कर दें तो एक दिन भारतीय टीम में भी खेलें।