रायपुर। छत्तीसगढ़ संयुक्त अनियमित कर्मचारी महासंघ ने 14 फरवरी को महासभा का आयोजन किया है। महासभा के लिए कल रायपुर प्रेस क्लब में 2 बजे प्रेस वार्ता आयोजित की गयी है, जिसमें संघ की आगामी कार्यक्रम की रूपरेखा और 1 लाख 80 हजार  अनियमित कर्मचारियों के मांगों के संबंध में प्रांतीय महासचिव रवि गढ़पाले ने लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ के माध्यम से सरकार तक अपनी बात पहुंचाने की बात कही है।

गौरतलब है कि वर्तमान बजट सत्र में जो निराशा अनियमित कर्मचारियों को जो निराशा हाथ लगी और सरकार की तरफ से कोई भी रुख स्पष्ट न होने से उत्पन्न रोश के कारण ये प्रेस वार्ता अतिमहत्वपूर्ण मानी जा रही है क्योंकि छत्तीसगढ़ संयुक्त अनियमित कर्मचारी महासंघ प्रदेश का  सबसे बड़ा संगठन है, जिसे 54 विभागों के 72 विभिन्न संगठनों का समर्थन प्राप्त है। इस संगठन में संविदा, दैनिक वेतन भोगी, आउटसोर्सिंग के सभी अनियमित कर्मचारी जुड़े हुए है।