नई दिल्ली। आईफोन की महंगी कीमतों की वजह से अक्सर ऐसा कहा जाता है कि इसे खरीदने के लिए अपनी किडनी बेचनी पड़ेगी। ये बात को हमेशा ही मजाक में लिया जाता है, लेकिन चीन के रहने वाले ताके शाओ वैंग ने 7 साल पहले 2011 में आईफोन-4 खरीदने के लिए अपनी किडनी बेच दी थी, लेकिन इस घटना के इतने साल बीत जाने के बाद वैंग अब अस्पताल में जिंदगी और मौत से लड़ रहा है। दरअसल, किडनी बेचने की वजह से वैंग की दूसरी किडनी भी फेल हो गई, जिसके बाद से ही वे अस्पताल में डायलिसिस पर हैं और उनके इलाज में वैंग के माता-पिता को अपना सबकुछ बेचना पड़ा है।



699 डॉलर के आईफोन खरीदने को बेची थी

7 साल पहले शाओ वैंग की उम्र 17 साल थी और उस वक्त उन्होंने 6999 डॉलर के आईफोन-4 को खरीदने के लिए अपनी एक किडनी ब्लैक मार्केट में 3,487 डॉलर (उस वक्त करीब 1.74 लाख रुपए) में बेच दी थी।

जब वैंग की मां ने आईफोन के बारे में पूछा था, तो उसने किडनी बेचने की बात कबूली थी। इस मामले में उस वक्त 5 लोगों को गिरफ्तार भी किया गया था, जिन्होंने वैंग की किडनी को 10 गुना ज्यादा दाम में बेच दिया था।

अब डायलिसिस पर काट रहा अपनी जिंदगी

आईफोन के लिए किडनी बेचने का फैसला वैंग पर इस तरह भारी पड़ा कि उसे अब अपनी जिंदगी डायलिसिस पर ही काटनी पड़ रही है। दरअसल, किडनी बेचने के बाद वैंग की सर्जरी चीन के एक अस्पताल में की गई थी, लेकिन सफल नहीं होने की वजह से उसकी दूसरी किडनी में भी इन्फेक्शन हो गया जिस वजह से उसकी दूसरी किडनी भी फेल हो गई।

दूसरी किडनी भी फेल होने के कारण अब वैंग का जीना मुश्किल हो गया है और उनको डायलिसिस मशीन पर रखा गया है। वैंग के माता-पिता के पास आईफोन खरीदने के लिए पैसे नहीं थे, लेकिन अब उन्हें इलाज के लिए अपना सबकुछ बेचना पड़ा है।

आईफोन और बाइक के लिए बेटी को ही बेच दिया

आईफोन खरीदने के लिए अपनी बेटी को बेचने का मामला भी चीन में ही सामने आया था। मार्च 2016 में डुआन नाम के व्यक्ति ने अपनी बेटी को एक अनजान व्यक्ति को सिर्फ 22 हजार युआन (3,500 डॉलर) में बेच दिया था।

इन पैसों से डुआन ने आईफोन और एक नई बाइक खरीदी थी। हालांकि बाद में डुआन और उसकी पत्नी शाओ को गिरफ्तार कर लिया था। इसके बाद कोर्ट ने डुआन को 3 साल और शाओ को ढाई साल कैद की सजा सुनाई थी।