रांची। झारखण्ड के लातेहार  में 65 वर्ष के बुजुर्ग को दो माह से राशन नहीं मिलने के कारण भूख से मौत हो गई। इस मौत के मामले में सरकार ने जांच के आदेश दिए हैं। मौत को लेकर रिपोर्ट में कहा गया की बुजुर्ग को प्रसाशन की ओर से  राशन नहीं मिल रहा था। जिसके चलते  लातेहार जिले के लुरगुमी काला गांव के रहने वाले रामचरण मुंडा की बुधवार को  मौत हो गई।। प्रसाशन ने इस बात से इंकार किया है। वही राज्य के खाद्य मंत्री सरयू राय ने आरोपों की जांच के लिए शव को खोद कर निकालने और पोस्टमॉर्टम के लिए भेजने का निर्देश शनिवार को प्रशासन को दिया है।

खाद्य मंत्री सरयू राय ने कहा कि राज्य सरकार ने इन आरोपों को गंभीरता से लिया है और मामले की जांच के दौरान प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन करने के निर्देश प्रशासन को दिए हैं। अगर आरोप सही हैं और कोई भी दोषी पाया जाता है तो उसे नियम के अनुसार सजा मिलेगी।

हालांकि, लातेहार के महुआदंड ब्लॉक के उप मंडलीय मजिस्ट्रेट सुधीर कुमार दास ने कहा कि मुंडा की मौत भूख से नहीं हुई और उनके परिवार को वह सभी सुविधाएं मिल रही हैं जिसके वे हकदार हैं।