By मनोज यादव

कोरबा। 112 में ड्यूटी पर तैनात आरक्षक और चालक की दो युवकों ने जमकर पिटाई कर दी। घायल पुलिसकर्मियों की शिकायत पर दर्री थाने में अपराध दर्ज कर फरार युवकों की तलाश की जा रही है।

अपराधों पर अंकुश लगाने और लोगों की मदद के लिए पुलिस विभाग ने 112 डायल की सुविधा मुहैया कराई है, जहां 112 डायल करते ही पुलिसकर्मी मौके पर अपनी उपस्थिति दर्ज करा लोगों की सहायता प्रदान करते हैं, लेकिन ऐसे में अगर 112 के कर्मी ही मुसीबत में फंस जाएं, तो आने वाले समय में क्‍या होगा। कुछ दिन पहले भी ऐसी ही घटना हुई थी, जिसमें 112 के आरक्षक के साथ मारपीट की गई थी।

ताजा जानकारी के अनुसार, दर्री थाना अंतर्गत अगाखार बस्ती में मारपीट की सूचना पर दर्री थाने 112 की टीम घटनास्थल पहुंची। मारपीट के आरोपी युवक को पकड़कर थाने लाते समय 112 के आरक्षक और चालक की दो अन्य लोगों ने रास्ता रोककर मारपीट करना शुरू कर दिया। घटना को अंजाम देने के बाद मौके से फरार हो गए। दर्री सीएसपी पुष्पेंद्र बघेल ने बताया कि 112 रायपुर कंट्रोल रूम की सूचना पर आरक्षक आशीष महादेवा और चालक अगारखार गए हुए थे। मारपीट करने वाले सुनील साह को पकड़ कर ला रहे थे, तो इसी दौरान बच्चा यादव और राम बाबू ने 112 के आरक्षक और चालक के साथ मारपीट की। उन दोनों के खिलाफ अपराध दर्ज कर तलाश की जा रही है।

दर्री सीएसपी ने पुलिसकर्मियों के साथ बार-बार हो रही मारपीट की घटना को देखते हुए लोगों से अपील की है कि अगर किसी पुलिसकर्मी के खिलाफ शिकायत है, तो वह सीधे पुलिस अधिकारियों से शिकायत करें, उनके साथ मारपीट ना करें।