भुवनेश्वर। मंदिर के दान पेटी से लाखों रूपये की चोरी हुई है। पिछले 10 दिनों में मंदिर परिसर में यह दूसरी वारदात है। यह घटना विश्व प्रसिद्ध पुरी के श्री जगन्नाथ मंदिर की है। परिसर में फिर एक बार दानपेटी तोड़कर चोरी हुई है। इससे पहले राम मंदिर की ग्रिल तोड़कर हुंडी से चोरी की गई थी। इस बार कोईली बैकुंठ के सुआर-महासुआर नियोग कार्यालय में हुंडी से धन गायब किया गया है। चोरी की यह घटना सीसीटीवी में कैद हो गयी है।

सीसीटीवी फुटेज से पता चला है कि सुआर-महासुआर नियोग के कार्यालय के आस-पास गुरुवार की रात करीब 12 से 3 बजे तक चार लोग संदिग्ध हालात में घूम रहे थे। थोड़ी देर बाद एक निर्वस्त्र नाबालिग नियोग कार्यालय में लगी सीमेंट की जाली तोड़कर अंदर घुसता है और सीसीटीवी कैमरे को मोड़कर तोड़ देता है। दो हुंडी में से लाखों रुपये लूट लिए जाने की आशंका जताई जा रही है।

सुआर-महासुआर नियोग के पास लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद तस्वीरें देखकर मंदिर प्रशासन के अधिकारी हैरान हैं कि हुंडी से चोरी के लिए नाबालिगों का सहारा लिया गया है। सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस घटना की जांच में जुट गई है। लेकिन सवाल यह उठ रहा है कि मंदिर शोध (बंद) होने के बाद कैसे कोई मंदिर के अंदर प्रवेश कर सकता है। अगर कोई अंदर आता है तो सुरक्षा में नियोजित पुलिस कैसे इसका पता नहीं लगा सकी इन प्रश्नों को लेकर मंदिर प्रशासन की नींद उड़ी हुई है।