By मनीष सोनी

सरगुजा। छत्तीसगढ़ का शिमला कहे जाने वाले मैनपाट में पारा 1.8 डिग्री पहुंच चुका है। सरगुजा के कड़ाके की ठंड ने लोगो को हैरान-परेशान कर दिया है।छत्तीसगढ़ का शिमला कहे जाने वाले मैनपाट में तो बर्फ़ की चादर जैसा नज़ारा दिखाई दे रहा है। सैलानियों के लिए ये अनुकूल समय है।

तापमान में लगातार गिरावट हो रही है, दो दिन की बारिश के बाद बादल छंट चुके हैं और उत्तरी हवाओ ने मौसम को ठंढ़ा कर दिया है। वहीं शुक्रवार को सरगुजा के मैनपाठ में पारा 1.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

अम्बिकापुर शहर में यह तापमान 3 डिग्री सेल्सियस रहा। जानकारों के अनुसार मौसम से आद्रता खत्म हो रही है और हवाएं शुष्क हो रही हैं। लिहाजा सरगुजा के तापमान में अभी और गिरावट होगी और भीषण ठंड पड़ने के आसार हैं।

वहीं सरगुजा संभाग में सरगुजा के मैनपाट, कोरिया जिले के सोनहत और जशपुर जिले के जोकापाठ में सुबह सुबह पाले की चादर देखी गई। आलू अनुसंधान केंद्र मैनपाठ के द्वारा मैनपाठ का न्यूनतम तापमान 1.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है।