by रमेश गुप्ता

• ई चालान का भुगतान करना होगा अनिवार्य

• भुगतान न करने पर आरटीओ की सेवा रहेगी बाधित

• बार-बार उल्लंघन करने पर भरना होगा दोगुना चालान

• ऑनलाइन चालान भुगतान की है सुविधा, घर बैठे करें चालान का भुगतान

• ट्रैफिक सिग्नल को ना करें नजरअंदाज 3- 4 सेकंड पहले निकलने पर भी होगा ई चालान

रायपुर | स्मार्ट सिटी की तर्ज पर शहर की यातायात व्यवस्था और चौक चौराहों को स्मार्ट बनाने के लिए रायपुर पुलिस लगातार नये -नये प्रयोग कर रही है. इसी बार स्मार्ट सिटी द्वारा लगाए गए आईटीएमएस कैमरों के ज़रिये वाहन चालकों पर नज़र रखी जाएगी. अगर कोई व्यक्ति ट्रैफिक नियम तोड़ता है, तो उसके विरुद्ध ई-चालान नोटिस जारी की जा रही है, यह चालान नोटिस वाहन चालक को अनिवार्य रूप से पटाना होता है. यदि वह चालान नहीं पटाता तो आरटीओ से मिलने वाली सारी सेवाएं बंद कर दी जाएंगी.

इसके आलावा अगर आप एक ही नियम का बार-बार उल्लंघन करते हैँ, तो आपको दोगुना चालान पटाना पड़ेगा. उदाहरण के तौर पर, अभी सिग्नल के नियमों का उलंघन करने पर मोटर व्हीकल एक्ट के तहत ₹200 का चालान बनता है, लेकिन यही गलती अगर आप दोबारा करते हैँ, तो आपको ₹1000 तक का जुर्माना भरना पड़ सकता है !

इसके साथ ही कोरोना काल में सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए, यातायात पुलिस ने ऑनलाइन ई पेमेंट की सुविधा भी शुरू की है, जिसके तहत नियमों का उल्लंघन करने वाला व्यक्ति घर बैठे मोबाइल ऐप के माध्यम से अपना चालान जमा कर सकता है!

शहर के ज़्यादातर वाहन वाहन चालक ग्रीन सिग्नल होने के 2 से 3 सेकंड पूर्व यलो लाइट में ही सिग्नल पार कर रहे हैं। इसलिए पुलिस ने वाहन चालकों से अपील है कि ट्रैफिक सिग्नल को नजरअंदाज ना करें, सिग्नल ग्रीन होने पर ही आगे बढ़े, ग्रीन सिग्नल के पहले निकलने पर ई चालान जनरेट हो सकता है!

स्मार्ट सिटी द्वारा स्थापित आईटीएमएस सीसीटीवी कैमरे के माध्यम से यातायात पुलिस रायपुर को ई चालान नोटिस जारी करते 1 वर्ष से भी अधिक समय हो चुका है। पिछले एक साल में ई - चालान जारी होने की गति में कमी आयी है, जिससे लगता है की रायपुर अब जागरूक हो रहा है, मगर अभी और जागरूकता की ज़रुरत है.