रायपुर । छत्तीसगढ़ सरकार के केबिनेट मंत्री मोहम्मद अकबर ने कवर्धा के गणतंत्र दिवस समारोह कार्यक्रम में शिरकत की। इसके बाद सोशल मीडिया में एक वीडियो के साथ ये खबरें दिखीं कि झंडा फहराते वक्‍त अकबर ने झंडे को सैल्‍यूट नहीं किया।
भारतीय जनता पार्टी के नेता बिना रूके इस मुद्दे पर पूरी कांग्रेस की सरकार को घेरते रहे। फेसबुक पर कांग्रेस को और मंत्री मो अकबर को राष्‍ट्रविरोधी बताने की होड़ सी मची है। इस बीच  से बात करते हुए इस पूरे मामले में मंत्री मो अकबर ने जवाब दिया है।

उन्‍होंने कहा कि हां मैंने सैल्‍यूट नहीं किया मगर सावधान की मुद्रा में था जो कि ध्‍वज संहिता के मुताबिक सही था।
कार्यक्रम में मो अकबर ने सैल्‍यूट भी किया था जिसकी तस्‍वीरें सोशल मीडिया में तैर रही हैं। ये सैल्‍यूट परेड की सलामी के वक्‍त का है।

क्‍या कहता है नियम
ध्‍वज संहिता के मुताबिक झंडा फहराते वक्‍त लोग सावधान की मुद्र में रहे, जो यूनिफॉर्म यानी की पुलिस या अन्‍य किसी फोर्स के लोग अपने अंदाज में झंडे का अभिवादन करें यानी की सैल्‍यूट करें।