एजुकेशन / जॉब्स

एजुकेशन / जॉब्स

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

बेमेतरा । कलेक्टर महादेव कावरे ने आज सवेरे बुधवार को बेमेतरा विकासखंड के अंदरूनी क्षेत्र के स्कूलों का आकस्मिक निरीक्षण किया। इनमें ग्राम पंडरभट्ठा एवं पेण्ड्रीतराई स्कूल शामिल है। इस दौरान कलेक्टर ने दोनों स्कूलों के बच्चों से पढ़ाई-लिखाई के संबंध में पूछताछ की। कलेक्टर ने मध्यान्ह भोजन में हरी सब्जी का उपयोग नहीं करने पर प्रधान पाठक को फटकार लगाई।

1963 में स्थापित पंडरभट्ठा के स्कूल में दर्ज संख्या 135 है। मिडिल स्कूल में दर्ज संख्या 148 है। ठंड के सीजन में नियमित रूप से बच्चों को हरी सब्जी खिलाई जाये। दोनों स्कूल में सभी शिक्षक उपस्थित पाए गए जबकि पेण्ड्रीतराई के मिडिल स्कूल में प्रधान पाठक जीवनपुरी गोस्वामी उपस्थित मिले। दो अन्य शिक्षक रमेश साहू और सुमन देवांगन छुट्टी पर थे। मिडिल स्कूल में दर्ज संख्या 78 है, जबकि प्रायमरी में 70 दर्ज संख्या में केवल 53 विद्यार्थी ही उपस्थित थे। जिलाधीश ने पंडरभट्ठा के प्राइमरी स्कूल के छात्र तरूण एवं मनीष को गणित सही हल करने पर नगद राशि देकर सम्मानित किया। साथ ही कक्षा छठवीं के छात्र राहुल साहू को सवाल के जवाब देने पर नगद ईनाम से पुरस्कृत किया।

कलेक्टर कावरे शिक्षक की भूमिका अदा करते हुए ब्लैक बोर्ड पर गणित सवाल लिखकर छात्रों को हल करने को कहा। कलेक्टर ने शिक्षकों को समय पर ड्यूटी आने के भी निर्देश दिए। कलेक्टर ने शिक्षकों से कहा कि वे बच्चों की पढ़ाई और उनके सर्वांगिण विकास में विशेष रूप से ध्यान दें। रिजल्ट खराब आने पर संबंधितों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी।

छत्तीसगढ़

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

By रमेश गुप्‍ता

भिलाई। पीएचडी, नगर सेवाएं भिलाई इस्पात संयंत्र द्वारा आज विभिन स्कूलों में स्वाइन फ्लू तथा डेंगू के प्रति जागरूकता अभियान चलाया गया, जिसके तहत स्‍टूडेंट असेंबली में स्वाइन फ्लू से बचाव, फैलने के कारण, आदि के विषय में बताया गया तथा पम्पलेट भी वितरित किया गया। साथ ही छात्रों को अपने पैरेंट को घरों के पीछे कचरे न फेंककर सफाई मित्रों को कचरा देने कहा। यह अभियान आज सेक्टर-7, सेक्टर-8, सेक्टर-9 तथा सेक्टर-4 के स्कूलों में चलाया गया। यह अभियान अन्य स्कूलों में भी जारी रहेगा। छात्रों को बीमार या सर्दी खांसी होने पर तत्काल डॉक्टर्स के पास जाने की सलाह दी गई। पीएचडी के सहायक महाप्रबंधक केके यादव, डीके मिश्रा, एसएस सिन्हा व शरद सम्मिलित थे। यह अभियान नगर सेवा विभाग के प्रभारी उपमहाप्रबंधक मोहन देशपांडे, उपमहाप्रबंधक सुब्रत प्रहराज के निर्देश व सहायक महाप्रबंधक डॉ जीके दुबे व सहायक महाप्रबंधक शिक्षा वैशाली सुपे के सहयोग से सम्पन हुआ।

मध्य प्रदेश

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

- राज्य सरकार के खजाने पर पड़ेगा करीब 11 सौ करोड़ का सालाना भार

 

 

भोपाल। शासकीय कर्मचारियों के लिए बड़ी खुशखबरी है। 1 जुलाई 2018 से लंबित कर्मचारियों के दो फीसदी महंगाई भत्ते (डीए) को आखिरकार मंजूरी मिल गई है। इससे शासकीय, शिक्षक संवर्ग, पेंशनर्स, पंचायत सचिव और स्थायी कर्मचारी जैसे 10 लाख कर्मचारियों को इसका फायदा मिलेगा। डीए बढ़ने से राज्य सरकार के खजाने में करीब 11 सौ करोड़ का सालाना भार आएगा।

सातवां वेतनमान लागू होने के बाद केंद्र सरकार ने जुलाई 2018 से अपने कर्मचारियों का डीए दो फीसदी बढ़ाकर नौ फीसदी कर दिया था, जबकि मप्र में यह 7 फीसदी था। अब दो फीसदी डीए की मंजूरी के बाद मध्यप्रदेश के कर्मचारी केंद्रीय कर्मचारियों के बराबरी पर आए हैं। हालांकि केंद्र सरकार का एक जनवरी 2019 से मिलने वाला डीए फिर पेंडिंग हो गया है। 60 से लेकर 80 वर्ष तक के बुजुर्गों को अभी 300 रुपए तथा 80 वर्ष से अधिक आयु वालों को 500 रुपए प्रतिमाह पेंशन मिलती है। अब सरकार ने इसे एक समान करते हुए 600 रुपए प्रतिमाह कर दिया है। इससे सरकार पर सालाना 1300 करोड़ रुपए का अतिरिक्त भार आएगा। रिवाइज्ड पेंशन एक अप्रैल 2019 से लागू होगी।

The Voices FB