नई दिल्ली । पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के उत्तरी वजीरिस्तान में सेना के काफिले पर हुए आतंकी हमले में पाकिस्तानी सेना के सात जवान मारे गए थे। वहीं एक दूसरे हमले में एक अन्य सैनिक की मौत हो गई। अब दावा किया जा रहा है पाकिस्तान ने इस हमले का बदला लेने के लिए अफगानिस्तान पर एयर स्ट्राइक की है। पाकिस्तानी पत्रकारों ने ट्विटर पर दावा किया कि देर रात पाकिस्तानी विमानों ने अफगानिस्तान के कुनार, खोस्त और चोगम और पेचा मेला पर बमबारी की। अफगानिस्तान के मशहूर पत्रकार बिलाल सरवरी ने पाकिस्तानी हमलों में महिलाओं और बच्चों समेत पांच लोगों के मरने की जानकारी दी है।

पाकिस्तानी पत्रकार सलीम महसूद ने ट्विटर पर लिखा, 'सूत्रों ने अभी तक कुनार में एक महिला और पांच बच्चों के मरने की पुष्टि की है। खोस्त से किसी के मरने की खबर नहीं है। पाकिस्तान-अफगानिस्तान सीमा पर तनाव बढ़ सकता है।' अफगानिस्तान के कुनार और खोस्त प्रांत पाकिस्तान सीमा के पास स्थित हैं। पाकिस्तान से जुड़े मामलों के जानकार फरान जाफरी अपने ट्वीट थ्रेड में बताया कि सूत्रों के मुताबिक हवाई हमलों के अलावा भारी गोलाबारी भी हुई है।
हमले में इस्तेमाल किए तुर्की के टीबी-2 ड्रोनउन्होंने लिखा, 'मुझे बताया गया है कि भारी गोलाबारी अभी भी जारी है। ऐसा लगता है कि पाकिस्तानी सेना अफगानिस्तान में टीटीपी आतंकवादी ठिकानों के खिलाफ अभियान चला रही है।' फरान ने अनुमान लगाया कि इस हमले में पाकिस्तानी सेना ने अपने नए टीबी-2 ड्रोन का इस्तेमाल किया होगा। तुर्की ने पाकिस्तान को बैरख्तर टीबी-2 ड्रोन दिए हैं। इन ड्रोन का निर्माण तुर्की की कंपनी Baykar Defense ने किया है जिसके मालिक तुर्की के राष्ट्रपति तैयब एर्दोगान के दामाद सेल्कुक बैरख्तर हैं।
पाकिस्तानी सेना से भिड़े तालिबान और टीटीपीफरान ने कुछ तस्वीरें शेयर कीं जिनमें आग की लपटें नजर आ रही हैं। उन्होंने दावा किया कि टीटीपी के ठिकानों के खिलाफ पाकिस्तानी हमलों के जवाब में तालिबान और पाकिस्तानी सेना के बीच झड़प शुरू हो गई है। सूत्रों के हवाले से उन्होंने बताया कि तालिबान खोस्त और कुनार में पाकिस्तानी सेना के खिलाफ अतिरिक्त सैन्य बल जुटा रहा है और टीटीपी के लड़ाके भी इस लड़ाई में शामिल हैं। टीटीपी ने भी आधी रात को बाजौर में पाकिस्तान के एक सैन्य अड्डे पर हमले का दावा किया है।