नई दिल्ली केरल की पारंपरिक वेशभूषा में पीएम मोदी की एक तस्वीर सोशल मीडिया में जमकर वायरल हो रही है। इस तस्वीर में पीएम मोदी तराजू के एक पलड़े पर रखकर कमल के फूलों से तौला जा रहा है। दरअसल प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेंद्र मोदी अपनी पहली यात्रा पर केरल पहुंचे हैं आज यानी शनिवार को केरल में ही रहेंगे।

इस दौरान त्रिसूर में बीजेपी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। इससे पहले पीएम यहां पर प्रसिद्ध गुरुवायूर मंदिर में विशेष पूजा की इस दौरान वे पारंपरिक वेशभूषा मुंडू में नजर आए। पीएम मोदी ने यहां तुलाभरम भी किया। तुलाभरम में व्यक्ति को तराजू के एक पलड़े पर रखकर किसी अन्य वस्तु से तौला जाता है। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में इस मंदिर से जुड़े कुछ रोचक बातें हैं आइये जाने :-

  • इस पूजा के दौरान 8 पुजारी पीएम मोदी के साथ रहे।
  • मंदिर में कमल के फूलों से पूजा-अर्चना के बाद पीएम को तराजू पर तौला गया।
  • इस रस्म के तहत पीएम मोदी के वजन के बराबर अनाज को दान किया गया।
  • इस विशेष पूजा के दौरान मुस्लिम किसान परिवारों से खरीदे 112 किलो कमल के फूलों काइस्तेमाल किया गया।
  • इस मंदिर में केवल हिंदू ही पूजा कर सकते हैं। दूसरे धर्मों के लोगों के अंदर प्रवेश पर रोक है।
  • मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार गुरुवायूर मंदिर 5000 साल पुराना है और 1638 में इसके कुछ भाग का पुनर्निमाण किया गया था।

बता दें कि पीएम मोदी के पूजा करने के दौरान जनता के लिए मंदिर का द्वार सुबह 9 से 11 बजे के बीच बंद रहेगा। प्रधानमंत्री के दौरे के कारण सुरक्षा चाक चौबंद कर दिया गया है। गौरतलब है कि नरेंद्र मोदी ने 2008 में गुजरात के मुख्यमंत्री के पद पर रहते हुए इस मंदिर में पूजा-अर्चना की थी। तब भी उन्होंने थुलाभारम रस्म अदा की थी।

गौरतलब है कि अप्रैल माह में तिरुवनंतपुरम से कांग्रेस सांसद शशि थरूर ‘तुलाभारम’ की रस्‍म के दौरान घायल हो गए थे। तराजू का हुक सीधे थरूर के सिर पर आ गिरा और वे लहूलुहान हो गए थे।