जमशेदपुर। बूगी-वूगी में इंट्री दिलाने का झांसा देकर बिष्टुपुर की नाबालिग लड़की का अपहरण कर दुष्कर्म करने के आरोपी नीतू भक्ता को पुलिस ने पश्चिम बंगाल के उत्तरी 24 परगना जिले के मध्यमग्राम थानांतर्गत देवीगढ़ गांव से गिरफ्तार कर लिया है। सीसीआर डीएसपी सुधीर कुमार ने बिष्टुपुर थाना में यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि पश्चिम बंगाल पुलिस की मदद से नीतू भाक्ता को गिरफ्तार कर बारासात कोर्ट में प्रस्तुत किया गया। उसे ट्रांजिट रिमांड पर जमशेदपुर लाया गया है। 

घटना छह जुलाई 2018 की है। नाबालिग के अपहरण की सूचना परिजनों ने बिष्टुपुर थाना में दर्ज करायी थी। डीएसपी ने बताया कि नीतू बूगी-वूगी के नाम से डांस क्लब का विज्ञापन देता था। विज्ञापन देखकर नाबालिग ने उसमें दिये गये नंबर पर फोन कर जानकारी ली। इसके बाद आरोपी नीतू भक्ता नाबालिग को बहला फुसला कर पश्चिम बंगाल स्थित अपने घर अपहरण कर ले गया और उसके साथ दुष्कर्म किया।

मेला में विज्ञापन से नीतू का मिला था नंबर

डीएसपी ने बताया कि सरना मेला में दिये गये विज्ञापन से नीतू भाक्ता का नंबर लड़की को मिला था। फोन करने पर नीतू ने लड़की को बताया कि वह डांस में नामांकन करवा देगा। इसके बाद ट्यूशन जाने के दौरान लड़की नीतू भक्ता से मिली। वह उसे पहले बुंडू लेकर गया। वहां से डांस सिखाने की बात कहकर कोलकाता अपने घर लेकर गया। अपने घर में पत्नी के बाहर जाने के बाद वह उससे दुष्कर्म करता था। लड़की को लेकर वह मुंबई भी गया था। यहां लड़की ने गलत काम का विरोध किया तो वह उसे लेकर 10 जुलाई को कोलकाता स्टेशन आया और छोड़ दिया। यहां से लड़की ट्रेन से टाटानगर पहुंची।