By संतोष ठाकुर

जगदलपुर। एक बड़े सेक्स रैकेट को पकड़ने में पुलिस ने सफलता हासिल की है। जानकारी के अनुसार एक युवक अपनी 2 पत्नियों के साथ देह व्यापार कर रहा था। जिसकी सूचना आस-पास के लोगों ने पुलिस को दी। जिसके बाद पुलिस ने उसे रिहा कराया और मामले की जाँच में जुट गयी।

यह घटना शहर के धरमपूरा इलाके की है जहां, मनीषा नामक एक महिला और उसका पति बाहर की युवतियों से जगदलपुर के तिलकनगर में देह व्यापार करा रहे थे। इस मामले में पुलिस ने बताया कि देह व्यापार  के लिए युवतियां जगदलपुर आई थी जिसमें से एक युवती को मनीषा और उसके पति ने बंधक बनाकर रख लिया था। बंधक युवती ने आसपास के युवकों को अपनी परेशानी बताई और पुलिस से संपर्क करने के लिए मदद की गुहार लगाई।

पुलिस ने बताया कि धरमपुरा के तिलक नगर में करीब एक सप्ताह पहले कमल साय, इम्मू साय और काजल ने किराये में घर लिया। बताया जा रहा है कि इम्मू साय और काजल दोनों कमल साय की पत्नी हैं। इस मकान में पिछले 2 दिनों से एक युवती बंद थी। कोलकाता की रहने वाली सुषमा के साथ तीन-चार युवतियां यहां पर देह व्यापार करने के लिए लाई गई थी। देह व्यापार चलाने वाले इस गिरोह ने इन युवतियों को जगदलपुर ले आये थे। बाकी युवतियां तो यहां से निकलने में कामयाब हो गई, मगर सुषमा इनकी चंगुल से नहीं निकल पाई, उसे कमरे में बंद कर दिया गया था। पड़ोस के एक युवक ने 112 डायल को फोन करके इसकी सूचना दी, जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने युवती को बाहर निकाला, युवती ने बताया कि वह कोलकाता की रहने वाली है और मुंबई में देह व्यापार का काम करती है। ज्यादा पैसा देने का लालच देकर उसे जगदलपुर बुलाया गया था। वह और उसके साथी पिछले 3 हफ्तों से यही थे। उसने बताया कि देह व्यापार  के एवज में मिलने वाले पैसे भी उसे नहीं दिए गए हैं और दो दिन से उसे कमरे में बंद कर रखा गया है। पुलिस ने काजल और इममू साय को गिरफ्तार कर लिया है और महिलाओं के ब्रोकर पति की तलाश कर रही है।