स्पोर्ट्स

वीमेन वर्ल्ड

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

नई दिल्ली भारतीय महिला टीम सोमवार से इंग्लैंड के खिलाफ शुरू हो रही है। पिछले न्यूजीलैंड दौरे पर टीम को 0-3 से हार का सामना करना पड़ा था। न्यूजीलैंड में टी-20 में सूपड़ा साफ होने से पहले टीम ने वन-डे सीरीज को 2-1 से अपने नाम किया था। भारत ने मुंबई में खेले गए तीन मैचों की वन-डे सीरीज में इंग्लैंड को 2-1 से हराया है। टी-20 टीम की कप्तान हरमनप्रीत कौर की चोट से उबर नहीं पाई हैं और उनकी गैर मौजूदगी में लय में चल रही सलामी बल्लेबाज स्मृति मंधाना टीम की अगुवाई करेंगी जहां उनके पास नेतृत्व क्षमता को साबित करने का मौका होगा।

कप्तान पर प्रदर्शन का दबाव

हरमनप्रीत की गैरमौजूदगी में खेलेगी टीम हरमनप्रीत की गैरमौजूदगी में सीनियर खिलाड़ी और वन-डे टीम की कप्तान मिताली राज को तीन मैचों की इस सीरीज में अहम भूमिका निभानी होगी। न्यूजीलैंड दौरे पर पहली दो टी-20 में मिताली को टीम में जगह नहीं दी गई थी और तीसरे टी-20 में 24 रन की उनकी नाबाद पारी भी टीम को जीत नहीं दिला सकी। टीम में वापसी कर रही वेदा कृष्णामूति के प्रदर्शन पर भी निगाहें लगी होंगी जिन्हें 2018 टी-20 विश्व कप में खराब प्रदर्शन के बाद बाहर कर दिया गया था।

प्रिया पूनिया और डी हेमलता की जगह टीम में शामिल हुई हरलीन देओल और भारती फुलमाली भी खुद को साबित करना चाहेंगी। मानसी जोशी की जगह बायें हाथ की गेंदबाज कोमल जनजाद अंतरराष्ट्रीय पदार्पण कर सकती है। तेज गेंदबाजी की अगुवाई शिखा पांडे करेंगी। टीम में पांच विशेषज्ञ स्पिनरों को जगह मिली है। टीमें इस प्रकार हैं:-

स्मृति मंधाना (कप्तान), मिताली राज, जेमिमा रोड्रिग्स, दीप्ति शर्मा, तानिया भाटिया, भारती फुलमाली, अनुजा पाटिल, शिखा पांडे, कोमल जांजड़, अरूंधति रेड्डी, पूनम यादव, एकता बिष्ट, राधा यादव, वेदा कृष्णमूर्ति, हरलीन देओल।

स्पोर्ट्स

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

नई दिल्ली। भारत में क्रिकेट के प्रति दीवानगी से सभी वाकिफ हैं। जहां पूरा देश आतंकवाद के खिलाफ एक साथ खड़ा दिखाई दिया वहीं भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने भी आतंकवाद को बढ़ावा देने वाले देशों के साथ पूरी तरह से संबंध खत्म करने की मांग आईसीसी से की थी। लेकिन आईसीसी के फैसले से बीसीसीआई को झटका लगा है। क्रिकेट की सर्वोच्च संस्था ने बोर्ड की आतंकवाद को बढ़ावा देने वाले देशों के साथ पूरी तरह से संबंध खत्म करने की मांग ठुकरा दी है। आईसीसी का कहना है कि इस तरह के मामलों में उसकी कोई भूमिका नहीं है।

गौरतलब है कि पुलवामा आतंकी हमले के बाद बीसीसीआई ने आईसीसी को एक पत्र लिखा था, जिसमें आईसीसी और उसके सदस्य राष्ट्रों से आतंकवाद को पनाह देने वाले देशों से संबंध खत्म करने की मांग की गयी थी। पुलवामा हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे।

बता दें कि पुलवामा हमले के बाद दोनों देशों के बीच बढ़े तनाव के मद्देनजर टीम इंडिया से इस मैच का बहिष्कार करने की मांग की गई है। इसमें सौरव गांगुली और हरभजन सिंह जैसे क्रिकेट जगत के कुछ बड़े नाम भी शामिल हैं। हालांकि, बीसीसीआई की प्रशासकों की समिति (सीओए) ने इस मामले में अब तक कोई फैसला नहीं लिया है। उसका कहना है कि उसे सरकार के आदेश का इंतजार है।

Tags: , ,

स्पोर्ट्स

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

नई दिल्ली। वेस्टइंडीज के सबसे धाकड़ व अनुभवी बल्लेबाज 39 साल के क्रिस गेल ने इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे वनडे मैच में वो कर दिखाया जिसने टीम इंग्लैंड के गेंदबाजों की हालत खराब कर दी। विश्व कप से पहले अपने करियर की आखिरी वन-डे सीरीज खेल रहे क्रिस गेल हर मैच में रिकॉर्ड बनाने के इरादे से मैदान पर उतर रहे हैं। इंग्लैंड के खिलाफ गुरुवार को 97 गेंदों में ताबड़तोड़ 162 रन ठोकते हुए इस जमैकन ने रिकॉर्ड्स की झड़ी लगा दी।

419 रन के विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरी वेस्टइंडीज के लिए गेल ने मैच में कुल 14 छक्के उड़ाए। इसके साथ ही वे 500 इंटरनेशनल छक्के लगाने वाले दुनिया के पहले बल्लेबाज बन गए। इस दौरान क्रिस गेल ब्रायन लारा के बाद वन-डे क्रिकेट में 10 हजार इंटरनेशनल रन बनाने वाले दूसरे कैरेबियाई खिलाड़ी बन गए है। गेल ने अपने 288वें वनडे मैच में 10 हजार का आंकड़ा पार किया है। गेल ने ये आंकड़ा एक शानदार छक्के के साथ पूरा किया। वन-डे क्रिकेट में अब तक 14 खिलाड़ी 10 हजार का आंकड़ा पार कर चुके हैं जिसमें सिर्फ दो ही खिलाड़ी ये कमाल कर पाए हैं। गेल से पहले ये कमाल सिर्फ ऑस्ट्रेलिया के क्रिकेटर रिकी पोंटिंग ने किया था।

क्रिस गेल ने एक वन-डे सीरीज या टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा छक्कों का रिकॉर्ड बना डाला है। हाल ही में क्रिस गेल ने ऐलान किया कि आईसीसी क्रिकेट विश्व कप 2019 के बाद वो वनडे क्रिकेट को अलविदा कह देंगे, यानी ये उनके करियर की अंतिम द्विपक्षीय सीरीज है और बुधवार रात उन्होंने दिखा दिया कि उन्हें क्यों 'यूनिवर्स बॉस' कहा जाता है।

स्पोर्ट्स

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

नई दिल्ली। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच दो मैचों की टी20 सीरीज खेली जा रही है। स्टार क्रिकेटर सुरेश रैना इस टीम का हिस्सा नहीं हैं, लेकिन उन्होंने टी20 क्रिकेट फॉरमैट में एक नया रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है। सुरेश रैना टी20 में 8 हजार रन पूरे करने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बन गए हैं। रैना साथ ही 300 टी20 मैच खेलने वाले दूसरे भारतीय हैं। इससे पहले महेंद्र सिंह धोनी ऐसा कर चुके हैं।

रैना से पहले कोई भी भारतीय क्रिकेटर टी20 क्रिकेट में 8000 रनों के आंकड़े तक नहीं पहुंच सका है। रैना ने पुड्डुचेरी के खिलाफ खेले गए मैच में 18 गेंद पर 12 रन बनाए। इस तरह से अब उनके खाते में 8001 टी20 रन हो गए हैं। 32 साल के रैना सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में उप्र की ओर से खेल रहे हैं। उप्र ने पुड्‌डुचेरी को 77 रन से हराया। रैना ने मैच में 18 रन बनाए। रैना ने अपना आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच पिछले साल इंग्लैंड के खिलाफ खेला था। अब जल्द ही सुरेश रैना इंडियन प्रीमयर लीग (आईपीएल) में चेन्नई सुपर किंग्स की ओर से खेलते नजर आएंगे। उन्होंने आईपीएल में 4985 रन बनाए हैं। रैना आईपीएल में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं।

T 20 में 8000 सबसे ज्यादा रण बनाने वाले खिलाड़ी 

खिलाड़ी

टीम

मैच

रन

क्रिस गेल

वेस्टइंडीज

369

12298

ब्रैंडन मैकलम

न्यूजीलैंड

370

9922

कैरोन पोलार्ड

वेस्टइंडीज

451

8838

शोएब मलिक

पाकिस्तान

340

8603

डेविड वॉर्नर

ऑस्ट्रेलिया

259

8111

सुरेश रैना

भारत

300

8001

विराट कोहली

भारत

251

7833

The Voices FB