कांकेर

Previous Next

ख़ास ख़बर

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

By पुनेश यादव

कांकेर। शहर में घड़ी चौक में दुर्घटना से बचने के लिए यातायात पुलिस द्वारा एक अलग अंदाज में आम नागरिकों से अपील की गई। जो वाहन चालक हेलमेट नही पहने हुए थे, उन्हें गुलाब का फूल भेंट कर हेलमेट पहनने की समझाइश भी दी गई। हेलमेट पहनकर वाहन चलाने वालों को पेन भेंट कर उनका धन्यवाद भी किया।

एक तरफ पूरे देश मे वेलेंटाइन्स डे की शुरुआत रोज डे मनाया जा रहा है, तो वहीं यातायात पुलिस आम नागरिकों को गुलाब का फूल देकर उनसे हेलमेट पहनने की अपील करते हुए इस डे को सेलिब्रेट कर रही है। इस अवसर पर उप पुलिस अधीक्षक कीर्तन राठौर, एसडीओपी आकाश मरकाम, यातायात प्रभारी केजू राम रावत व समस्त पुलिस जवानों की उपस्थित थे।

बता दें कि इन दिनों यातायात का 30 वां सप्ताह मनाया जा रहा है। यातायात सुरक्षा को लेकर पुलिस जगह-जगह हेलमेट पहनकर रैली व स्कूल-कॉलेजो में पढ़ने वाले विद्यार्थियों को यातायात नियम के बारे में जानकारी दे रही है।

ख़ास ख़बर

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

By पुनेश यादव

कांकेर। न्यू नारायण क्रीड़ा समिति व कांकेर बॉडी बिल्डिंग के तत्वावधान में राज्य स्तरीय बॉडी बिल्डिंग व ओपन मैन फिजिक्स-2019 प्रतियोगिता का आयोजन नरहरदेव मैदान कांकेर में किया गया। इसमें कई जिले से बड़ी संख्या में प्रतिभागी सम्मिलित हुए। जिसमें रायपुर से राजेश यादव मिस्टर छत्तीसगढ़ व जगदलपुर से पुलिस विभाग के आशीष मिंज ने मिस्टर छत्तीसगढ़ मैन फिजिक्स का खिताब जीता। इससे पहले भी आशीष बस्तर संभाग मिस्टर बस्तर व भिलाई में बॉडी बिल्डिंग प्रतियोगिता के गोल्ड मेडलिस्ट रह चुके हैं। कार्यक्रम का शुभारम्भ कांकेर विधायक शिशुपाल शोरी के द्वारा किया गया और सभी प्रतिभागियों को और आयोजकों को बधाई दी गई।

छत्तीसगढ़

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

By पुनेश यादव

कांकेर। केन्द्रीय विद्यालय की बहुचर्चित घटना में चार साल बाद न्यायालय का फैसला आया है। जिसमें न्यायालय ने आरोपी चपरासी को आठ साल के बालक के साथ अप्राकृतिक कृत्य का दोषी पाते हुए आजीवन कारावास और दो हजार रूपये अर्थदण्ड से दण्डित किया है।

अभियोजन पक्ष की ओर से न्यायालय में दर्ज प्रकरण के अनुसार 20 अगस्त 2015 को केन्द्रीय विद्यालय में अध्ययनरत आठ वर्ष के बालक से अप्राकृतिक कृत्य किये जाने की घटना उजागर हुई थी। आरोपी चपरासी ने स्कूल परिसर में ही पीड़ित बालक को डरा धमकाकर उसके साथ अप्राकृतिक कृत्य की घटना को अंजाम दिया था। इस मामले में पुलिस ने चपरासी मोहपुर निवासी इन्द्रजीत ठाकुर पिता बुधारसिंह ठाकुर 35 वर्ष को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ भादवि की धारा 377, 511, 506 बी तथा पाक्सो एक्ट के तहत जुर्म पंजीबद्ध कर आरोपी को दो दिनों बाद गिरफ्तार कर लिया जहां से न्यायालय में पेश किया गया।

न्यायालय में 24 लोगों के कथन लिये गये। गवाहों के कथन एवं परिस्थितिजन्य साक्ष्य के आधार पर विशेष न्यायाधीश एफटीसी प्रशांत शिवहरे ने आरोपी को दोष सिद्ध पाते हुए धारा 506 बी के तहत 7 वर्ष कारावास तथा 1 हजार रूपये अर्थदण्ड वहीं पाक्सो एक्ट की धारा के तहत आजीवन कारावास एवं 1 हजार रूपये अर्थदण्ड से दण्डित किया। दोनों सजाएं साथ साथ चलेंगी। वहीं पीड़ित बालक को क्षतिपूर्ति राशि दिलाये जाने जिला विधिक सेवा प्राधिकरण को सहायता राशि प्रदाय करने आदेशित किया। शासन की ओर से मामले की पैरवी शासकीय अधिवक्ता संदीप श्रीवास्तव ने की।

The Voices FB