दुर्ग

ख़ास ख़बर

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

भिलाई। चरोदा में एक अजीब मामला सामने आया है। एक व्‍यक्ति ने अपनी जिंदा पत्‍नी का डे‍थ सर्टिफिकेट बनवा लिया है। अब उस व्‍यक्ति की मौत हो चुकी है। जिंदा पत्‍नी अब अपने दो बच्‍चों के साथ खुद को जिंदा साबित करने के लिए सरकारी दफ्तर के चक्‍कर लगा रही है। यह मामला छत्तीसगढ़ के नए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के गृहनगर चरोदा का ही है।

 

जानकारी के अनुसार, यहां जीवित महिला को प्रशासन द्वारा सात साल पहले मृत घोषित कर दिया गया। राजेश्वरी खुद को जिंदा साबित करने के लिए अधिकारियों के चक्कर काटते भटक रही है। उसने अब नए मुख्यमंत्री से न्याय की गुहार लगाई है। इंदिरा नगर निवासी डी. राजेश्वरी ने बताया कि उनके पति दुर्गा प्रसाद की मृत्यु मार्च 2018 में हो गई थी।

रेलवे में कार्यरत रहे पति की पेंशन के लिए जब उन्होंने आवेदन किया तो अधिकारियों ने बताया कि उनके पास जमा कराए गए दस्तावेजों के मुताबिक दुर्गा प्रसाद की पत्नी की भी मृत्यु हो चुकी है। यह सुनते ही राजेश्वरी के पैरों तले जमीन खिसक गई। राजेश्वरी ने बताया कि तब से वह पेंशन के लिए रेलवे दफ्तर और खुद के मृत्यु प्रमाणपत्र को निरस्त कराने को लेकर नगरनिगम कार्यालय के चक्कर लगा रही है, लेकिन कोई इसे गंभीरता से नहीं ले रहा है।

पीडित डी. राजेश्वरी ने बताया कि मैं मुख्यमंत्री के गृहनगर की हूं। अब उन्हीं से न्याय मिलने की उम्मीद है। थक-हार कर मैंने मुख्यमंत्री को पत्र लिखा कि जल्द से जल्द मेरे नाम से बना मृत्यु प्रमाणपत्र रद्द कराया जाए, ताकि पति की मृत्यु के बाद मिलने वाली पेंशन और अन्य सुविधाएं शुरू हो सके।

राजेश्वरी ने बताया कि उनके दो बच्चे हैं। दोनों पढ़ाई कर रहे हैं। घर तो जैसे-तैसे चल जा रहा है, लेकिन बच्चों की पढ़ाई का खर्च, फीस आदि के लिए दिक्कत हो गई है। परिवार आर्थिक और मानसिक परेशानी से गुजर रहा है। राजेश्वरी ने कहा कि जल्द ही पति की नौकरी के दौरान का पैसा और पेंशन नहीं मिला तो उनका परिवार सड़क पर आ जाएगा।

नगर निगम भिलाई तीन (चरोदा) के आयुक्त चन्दन शर्मा ने कहा है कि आवेदिका के पति ने अपनी पत्नी की मृत्यु की गलत जानकारी देकर 2011 में प्रमाणपत्र बनवा लिया था। सात साल बाद पति की मौत के बाद महिला सामने आई तब इसकी जानकारी प्रशासन को हुई। मामला तब का है, जब भिलाई-चरोदा नगर निगम नहीं, बल्कि नगरपालिका हुआ करता था। तहसीलदार को पत्र भेजकर अवगत कराया गया है। मृत्यु प्रमाणपत्र को सप्ताह भर के भीतर निरस्त करने के बाद दोषियों पर कार्रवाई भी की जाएगी।

छत्तीसगढ़

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

By रमेश गुप्‍ता

भिलाई। शहर के होटल, ठेले, खोमचे एवं रेस्टोरेंट के द्वारा प्रतिष्ठान से निकलने वाले दैनिक कचरे को सड़क पर नाली एवं नालों में फेंके जाने के विरुद्ध नगर पालिक निगम के स्वास्थ्य अमले ने तत्काल कार्यवाही करते हुए वार्ड 5 के मांसाहारी होटल से निकले कचरे को नाली में फैलाए जाने के विरुद्ध होटल मालिक से प्रभारी स्वच्छता निरीक्षक ने अपनी टीम के साथ कार्यवाही कर अर्थदंड वसूला।

निगम आयुक्त श्री सुंदरानी के व्हाट्सएप नंबर पर जागरूक नागरिक द्वारा भेजी गई गंदगी की फोटो एवं वीडियो पर आयुक्त ने स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देश दिये थे। जिस पर जोन के स्वास्थ अमले ने छापामार कार्यवाही कर होटल के मालिक से पांच हजार रूपये अर्थदंड लगाकर रसीद की कॉपी प्रदान की एवं फैलाए गए कचरे को साफ किया गया। श्री सुंदरानी ने सेक्टर 4, सड़क-03 के पास मुख्य मार्ग में सामाजिक भवनों के द्वारा फैलाए गए कचरे के खिलाफ भी कार्यवाही के निर्देश दिए हैं।

महापौर व विधायक देवेंद्र यादव, स्वास्थ्य प्रभारी सदस्य लक्ष्मीपति राजू ने हाल ही में स्वास्थ्य अमले की बैठक लेकर कहा था, कि चौक-चौराहे एवं नुक्कड़ पर फैले कचरे स्वच्छ भारत मिशन अभियान पर विपरीत प्रभाव डालता है, इस पर तत्काल कार्यवाही करें। छापामार कार्यवाही में बालकृष्ण नायडू, राजेश गुप्ता एवं अन्य कर्मचारी शामिल थे।

छत्तीसगढ़

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

By रमेश गुप्‍ता

भिलाई। सामुदायिक पुलिसिंग को बढ़ावा देने जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में 'हमर द्वार हमर रखवार' अभियान चलाया जा रहा है। एक माह तक चलने वाले इस कार्यक्रम के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में चलित थाना लगाकर ग्रामीणों को कानूनी जानकारी देते हुए हाईटेक अपराधों से बचने के टिप्स देने के साथ ही अपराधों पर अंकुश लगाने के लिए सहयोग की अपील की जा रही है। खासकर महिलाओं में जागरुकता लाने के लिए विशेष प्रयास किए जा रहे हैं। 7 फरवरी से शुरू हुए इस अभियान के तहत जिले के सभी ग्रामीण क्षेत्रों को कवर करने का लक्ष्य है।

कार्यक्रम को लेकर आज पुलिस कंट्रोल रूम में एएसपी प्रज्ञा मेश्राम ने बताया कि 'हमर द्वार हमर रखवार’ कार्यक्रम के तहत ग्रामीण अंचलों में पुलिस द्वारा संगोष्ठी किया जा रहा है। कानून के प्रति महिलाओं व बच्चों को जानकारी दी जा रही है। महिलाओं व बाल अपराधों को संबंध में विभिन्न धाराओं के तहत दर्ज किए जाने वाले अपराधों को लेकर जागरुक किया जा रहा है। विशेषकर पॉक्सो एक्ट को लेकर बच्चों को जागरुक किया जाएगा। आने वाले दिनों में ग्रामीण क्षेत्रों की महिलाओं बच्चों अपराध व अपराधी के विरोध में खड़े रहने की सीख दी जाएगी।

आत्मरक्षा के गुर भी सिखाएंगे

प्रेसवार्ता में एएसपी प्रज्ञा मेश्राम ने कहा है कि महिलाओं को आत्मरक्षा के गुर भी सिखाए जाएंगे। इसके जिए रक्षा टीम के सदस्यों की एक टीम तैयार की गई है, जो ग्रामीण क्षेत्रों में महिलाओं को कई बिंदुओं पर प्रशिक्षण देंगी। प्रज्ञा मेश्राम ने कहा कि जिला पुलिस द्वारा लगातार इस दिशा में प्रयास किया जा रहा है जिसमें महिलाओं व बच्चों के साथ होने वाले हिसंक अपराधों में कमी लाई जा सके। गांवों में संगोष्ठी के माध्यम से 'हमर द्वार हमर रखवार’ का कार्यक्रम कारगार भी साबित हो रहा है। यही नहीं इस दौरान गांव की महिलाओं से भी सुझाव मांगे जा रहे हैं, जिससे कि सामुदायिक पुलिसिंग को और बेहतर बनाया जा सके।

छत्तीसगढ़

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

By रमेश गुप्‍ता

भिलाई। नगर पालिक निगम के आयुक्त एसके सुंदरानी ने निगम कर्मचारी के कार्यों में फेरबदल करते हुए विद्याधर देवांगन डाटा एंट्री ऑपरेटर को वर्तमान दायित्व के साथ-साथ सहायक प्रभारी अधिकारी आवास/ दुकान /गुमटी का दायित्व निर्वहन करने हेतु आदेश जारी किया है। साथ ही निकहत सबरीन उप अभियंता को जोन क्रमांक 1 नेहरू नगर अनुविभाग से स्थानांतरित कर जोन क्रमांक 2 वैशाली नगर अनु विभाग में पदस्थ किया है।

नगर पालिक निगम भिलाई के महापौर एवं भिलाई नगर विधायक देवेंद्र यादव ने विगत कुछ दिनों पूर्व समीक्षा बैठक में आवास/ गुमटी /दुकान जैसे महत्वपूर्ण कार्यों के लिए अतिरिक्त रूप से कर्मचारी संलग्न कर दायित्व देने हेतु आयुक्त को निर्देशित किया था, ताकि निगम क्षेत्र अंतर्गत जनता को सीधे लाभ मिलने वाले योजना को प्रगति पर लाया जा सके। इसी आधार पर आयुक्त ने आवास/ गुमटी /दुकान जैसे महत्वपूर्ण कार्यों को प्रभारी अधिकारी के माध्यम से संचालित करने के लिए विद्याधर देवांगन को सहायक प्रभारी अधिकारी नियुक्त किया है।

The Voices FB