छत्तीसगढ़

सरगुजा संभाग

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

By दिलीप जायसवाल

अंबिकापुर। प्रदेश में लोकसभा चुनाव के लिए तीसरे चरण की वोटिंग पूरी हो चुकी है। लोकसभा चुनाव के इस दौरान छत्तीसढ़ में कुल मतदान 71.48 प्रतिशत मतदान हुआ है। लेकिन सरगुजा लोकसभा क्षेत्र के कुछ इलाकों में नक्सलियों के दहशत के कारण चुनचुना और पुंदाग के महज 13 प्रतिशत मतदाताओं ने मतदान किया। जबकि पिछले विधानसभा चुनाव में यहां के 67 प्रतिशत वोटरों ने अपने मताधिकार का उपयोग किया था। 

बता दें कि चुनचुना पुंदाग बलरामपुर जिले का सबसे अधिक नक्सल प्रभावित इलाका है। चुनचुना और पुंदाग दोनों गावों में पिछले विधानसभा चुनाव में मतदान केंद्र बनाया गया था लेकिन चुनाव आयोग इस बार वहां मतदान कराने की हिम्मत नहीं जुटा पाया। इसके वजह से यहां के लोग मतदान नहीं कर सके। मतदान केंद्र गावों से बीस किलोमीटर दूर बंदरचुंवा गांव में बनाया गया था।

इस मामले में ग्रामीणों और जनप्रतिनिधियों का कहना है कि अगर विधानसभा चुनाव की तरह आयोग ने प्लानिंग की होती तो मतदाताओं ने दिल खोलकर मतदान किया होता।

गरियाबंद

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

गरियाबंद। लोकसभा चुनाव के मतदान कार्य में लगे 27 अधिकारियों और 4 सेक्टर अधिकारियों को कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्याम धावड़े ने नोटिस जारी किया है। इसके अलावा कलेक्टर ने मतदान कार्य में लापरवाही बरतने के कारण और अनुपस्थित रहने के कारण इन अधिकारियों को नोटिस भेजा है।  

कलेक्टर ने मतदान कार्य में अनुपस्थित रहने और लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों को भेजे गये नोटिस में दो दिन के भीतर समक्ष उपस्थित होकर स्पष्टीकरण देने का आदेश दिया है। दरअसल सेक्टर अधिकारियों को अपने सेक्टर में स्थित सभी मतदान केन्द्रों में निर्वाचन संबंधी कार्य कराना और आयोग द्वारा अपेक्षित जानकारी को समयावधि में पहुंचाना था, लेकिन मतदान खत्म होने के बाद मतदान सामग्री निर्धारित समयावधि में जमा नहीं किया गया और बिना किसी अनुमति के अपने निवास स्थल चले गये।

इस मामले में राजिम विधानसभा अंतर्गत 5-चचैद (श्यामनगर) के सेक्टर अधिकारी आर.के. मिश्रा, बिन्द्रानवागढ़ विधानसभा अंतर्गत 34-कुम्हडईखुर्द के सेक्टर अधिकारी जे.आर. रजक, 33-देवभोग के सेक्टर अधिकारी विश्राम टंडन तथा 25-मुड़गेलमाल के सेक्टर अधिकारी डी.पी. सारथी को नोटिस जारी किया गया है। 

इसके अलावा राजिम विधानसभा क्षेत्र के मतदान दल में संलग्न और रिजर्व रखे गये 21 मतदान कर्मियों को अपने कर्तव्य से अनुपस्थित रहने के कारण नोटिस जारी किया गया है, जिनमें पीठासीन अधिकारी प्रभुराम, निर्मल सिंह, भागवत राम, रमेश कुमार, कृपाराम ध्रुव, धजाराम राठौर, जगदीश सिंह सिकरवार, मेहत्तर राम यादव तथा मतदान अधिकारी गजानन, विभीषण, विजय शंकर, राजेन्द्र कुमार, सतीस, शंकर लाल, लीलाराम साहू, सुब्रत रंजन तिवारी, शशि शेखर पाण्डे, दया सागर गजेन्द्र, कल्याण सिंह मांझी, हेमेन्द्र कुमार साहू और डिलेश्वरी साहू शामिल है। 

बिन्द्रानवागढ़ विधानसभा क्षेत्र से 6 अधिकारियों को नोटिस जारी किया गया हैं, जिनमें पीठासीन अधिकारी मिलाप राम सोरी तथा मतदान अधिकारी भागवत राम साहू, राकेश कुमार मसीह, अक्षय प्रताप भदोरिया, भोजलाल सागर एवं दालुराम कमार शामिल है। 

बस्तर संभाग

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

By संतोष ठाकुर

जगदलपुर। बस्तर की अनमोल धरोहर इंद्रावती पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं, वहीं इस मामले को शहर के सभी वर्ग और समुदाय के लोग अपना योगदान दे रहे है, इसी कड़ी में आज बुधवार की शाम मुस्लिम समाज जगदलपुर ने गोल बाजार चौक में आम जन से ‘पानी बचाओ,जीवन बचाओ, बस्तर की अनमोल धरोहर बचाओ’ का नारा लगाते हुए, पानी का महत्व समझने की अपील की।

शेख आदिल क़ादरी ने बताया कि इस मामले में अज़ीज़ खान ने कहा कि इन्द्रावती नदी को बचाना सिर्फ पर्यटन के लिए ज़रूरी नही है, बल्कि हज़ारों लोग पीने के साफ पानी के लोए भी नदी पर ही आश्रित हैं। वहीं राजा हसन ने कहा कि "इस्लाम मे पानी के महत्व के बारे में कहा गया है, और पानी को व्यर्थ बर्बाद करने से भी रोका गया है" हमे पानी का हमेशा सदुपयोग करना चाहिए।

समीर खान ने कहा कि इस समस्या के समाधान के लिए आम जन एवं सरकार को एक साथ काम करने की ज़रूरत है। कार्यकम में समीर खान, जावेद खान, बादशाह खान, उस्मान रज़ा, अब्दुल क़य्युम, सैय्यद महफ़ूज अली, सैय्यद मकसूद अली, अब्दुल, सोनू, छोटू, सिबतैन रज़ा और अन्य लोग मौजूद रहे।

जशपुर

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

By तनवीर आलम

जशपुर। मतदान के समय तीन मतदाताओं ने बैलेट यूनिट के साथ मोबाईल से फोटोग्राफी और वीडियोग्राफी की जिसके बाद अनुविभागीय अधिकारी और सहायक रिटर्निंग ऑफिसर पत्थलगांव ने तीनों मतदान केन्द्र के पीठासीन अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया गया है।

गौरतलब है कि 23 अप्रैल को मतदान के दिन कोतबा के मतदान केन्द्र क्रमांक 265, 266 एवं 268 में वोटिंग के समय तीन मतदाता मोबाईल के साथ मतदान केन्द्र में गए और मतदान कंपाटमेंट में मत डालते समय उसकी फोटोग्राफी और वीडियोग्राफी करके सोशल मीडिया में वायरल कर दी। इस मामले की जानकारी जैसे ही कलेक्टर और जिला निर्वाचन अधिकारी निलेश कुमार महादेव क्षीरसागर को मिली। उन्होंने सहायक रिटर्निंग अधिकारी पत्थलगांव से जानकारी लेने के साथ ही तीनों पीठासीन अधिकारियों को निर्वाचन आयोग के आदेशों का पालन करने में लापरवाही बरतने के लिए कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। मतदान की गोपनीयता को बनाए रखने में बरती गई लापरवाही दण्डनीय अपराध है इसलिए कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।

Subcategories

The Voices FB