छत्तीसगढ़

दुर्ग संभाग

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

By रमेश गुप्ता

भिलाई। निर्वाचन कार्य में लापरवाही बरतने वाले दो निगम कर्मचारियों को निलंबित कर दिया गया है। नगर पालिक निगम भिलाई के आयुक्त एसके सुंदरानी ने निलंबन का आदेश जारी कर दिया है।

दरअसल बुधराम महिलांग, पंप सहायक (सुपरवाइजर) जोन क्रमांक 2 व दयाराम लाइनमैन जोन क्रमांक 2 को लोक सभा निर्वाचन 2019 चुनाव कार्य के लिए ड्यूटी लगाई गई थी लेकिन इन्होंने किसी प्रकार का प्रतिवेदन नहीं दिया न हीं समय पर अपने कार्यालय पर मौजूद हुए।

दोनों कर्मचारियों को छत्तीसगढ़ सिविल सेवा आचरण नियम 1965 के उप नियमों के अनुसार कार्रवाई करते हुए बुधराम महिलांग को निलंबित करते हुए निलंबन अवधि में मुख्यालय जोन क्रमांक 6 दिया गया है तथा दयाराम लाइनमैन को निलंबित करते हुए मुख्यालय जोन क्रमांक 4 दिया गया है। दोनों को निलंबन अवधि में नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ता दिया जायेगा।

जशपुर

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

The Voices की खबर का असर 

By तनवीर आलम

जशपुर। आचार संहिता लागू होने के कारण स्कूलों के लिए किसी भी प्रकार का सामान खरीदा नहीं जा सकता है। कलेक्टर निलेश कुमार महादेव क्षीरसागर ने जिला शिक्षा अधिकारी को स्कूलों को मिलने वाली अनुदान राशि से आचार संहिता के चलते किसी भी तरीके की सामग्री न खरीदने और चुनाव आचार संहिता का कड़ाई से पालन सुनिश्चित कराने को कहा है।

गौरतलब है कि जिले के प्राथमिक एवं माध्यमिक शालाओं को शासन की ओर से मिलने वाली अनुदान राशि से सामान खरीदने की शिकायत मिली। जिसके बाद कलेक्टर ने जिला शिक्षा अधिकारी को आचार संहिता का कड़ाई से पालन करने को कहा है।

बता दें कि लगभग 80 लाख रुपए की सामग्री खरीदी के लिए रितेश पांडे नाम के एक फर्म के नाम से क्रय आदेश सभी स्कूलों से जारी किया गया था, जिसमें जिले के लगभग 6000 स्कूलों को मेसर्स रितेश पांडे को सामग्री खरीदने और उसे स्कूलों में पहुंचाकर बिल देने के लिए गया था। जिस पर जशपुर के जिला शिक्षा अधिकारी बीएल धु्रव का कहना था कि आदेश शिक्षा मंत्री के पीए के द्वारा दिया गया है। कृपया आप उन्हीं से बात कर लिजिए।उक्त मेसर्स के नाम पर सभी स्कूलों को भेजकर जिले के प्रायमरी और मिडिल स्कूल के प्रधान पाठक दबाव भी डाला जा रहा था।

जुर्म

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

By अरुण कुमार

बलरामपुर। भाजपा के पूर्व सांसद प्रतिनिधि की टांगी से मारकर हत्या कर दी गई है। बताया जा रहा है कि मृतक के भांजों ने ही हत्या की वारदात को अंजाम दिया है और हत्या के बाद मौके से फरार हो गए थे, पुलिस ने उन्हें गिरफतार कर लिया है।

यह घटना कुसमी थाना क्षेत्र के ग्राम हिर्री की है, जहां सांसद प्रतिनिधि दरोगा राम की हत्या कर दी गयी है। ये पूर्व में तीन बार सरपंच रह चुके हैं और वर्तमान में भाजपा के मंडल उपाध्यक्ष भी थे। कुसमी थाना के प्रभारी नसीमुद्दीन ने बताया की मृतक का उसकी विधवा बहन से किसी बात को लेकर विवाद था और हमेशा दोनों के बीच लड़ाई-झगड़ा होते रहता था। कल रात भी दरोगा राम की उसकी बहन से कहासुनी हुई और उसके बाद बहन के दोनों बेटे तपेस्वर और महेस्वर टांगी लेकर दरोगा राम के घर पहुंच गए।

दोनों अपनी मां से हुए विवाद की बात को लेकर अपने मामा से झगड़ने लगे और टांगी से वार कर मामा को मौत के घाट उतार दिया। वारदात को अंजाम देने के बाद दोनों भाई मौके से फरार हो गए। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस की टीम ने शव को कब्जे में लेकर परिवार वालों का बयान दर्ज किया, फिर आरेापियेां की तलाश शुरू की। दोनों भाई गांव के ही एक घर में छिपे हुए थे, पुलिस ने दोनों को गिरफतार कर जेल भेज दिया है।

दुर्ग संभाग

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

By रमेश गुप्ता

भिलाई। भाजपा के नेता, पूर्व केबिनेट मंत्री प्रेमप्रकाश पाण्डेय ने भाजपा कार्यालय में 3 बजे पत्रकार वार्ता की। इस दौरान उन्होंने कहा कि- राहुल गांधी झूठ बोलने वालों के साथ खड़े हैं। कांग्रेस ने झूठ बोलकर लोगों को छला है।

उन्होंने सीएम भूपेश बघेल पर निशाना साधते हुए कहा कि- प्रदेश के मुख्यमंत्री कहते हैं कि वे झूठ नहीं बोलते और झूठ बोलने वाले मोदी जी के साथ जाओ। मैं राहुल गांधी को यह कहना चाहता हूं कि लगातार पिछले कई चुनावों से कांग्रेस भिलाई में लोगों को लीज के मुद्दे पर झूठ बोलती आ रही है। चाहे रोजगार की बात हो, किसानों की ऋणमाफी की बात हो या चाहे शराबबंदी हो। यह सब केवल झूठ है। जब कांग्रेसी ही शराब बेच रहे हैं तो शराबबंदी कैसे हो सकती है।

इसके अलावा प्रेमप्रकाश पाण्डेय ने कहा कि ‘मुख्यमंत्री सहित चार मंत्रियों सहित 8 विधायकों के जिले में रहने के बावजूद कांग्रेस को दुर्ग में अपनी पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी को प्रत्याशी के लिए वोट मांगने आना पड़ा। यह इस बात का स्पष्ट प्रमाण है कि भाजपा यहां बहुत आगे निकल चुकी है।’

Subcategories

The Voices FB