झारखंड

झारखंड

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

रांची रविवार की रात पुलिस ने छापेमारी कर बड़ी मात्रा में विस्फोटक जब्त किया है। पुलिस को देख बंगाल से विस्फोटक लेकर आ रहा बाइक सवार थानेदार को धक्का देकर भाग निकला। बाइक में टंगे एक बैग से पुलिस ने 194 पीस नियोजेल और एक मोबाइल फोन बरामद किया। नियोजेल खतरनाक विस्फोटक की श्रेणी का माना जाता है। यह डायनामाइट की तरह ही काम करता है।

यह घटना मालपहाड़ी ओपी थाना क्षेत्र के पथरघट्टा गांव के समीप की है, जहां गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस ने छापामारी कर कार्रवाई की। दरअसल पुलिस को सूचना मिली थी कि पश्चिम बंगाल के राजग्राम से एक युवक बाइक से विस्फोटक सामग्री लेकर पथरघट्टा होते हुए मालपहाड़ी जा रहा है। पुलिस ने तत्काल पथरघट्टा में घेराबंदी की। यहां एक व्यक्ति बाइक से जाता दिखा। पुलिस ने उसे रोकना चाहा, तो बाइक चालक थाना प्रभारी शिवजी पांडेय को धक्का मारकर भाग निकला। बाइक वहीं छोड़ गया।

नगर थाना परिसर में अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी अशोक कुमार सिंह ने बताया कि पुलिस ने बाइक जब्त की है। फरार अपराधी की पहचान हो गई है। वह मालपहाड़ी ओपी थाना क्षेत्र की ऑटोगली का रहने वाला पियारुल शेख है। पुलिस उसकी गिरफ्तारी के लिए जगह जगह छापेमारी कर रही है। उसके पकड़ में आने के बाद पता चलेगा कि विस्फोटक कहां और क्यों ले जाया जा रहा था। एसडीपीओ ने बताया कि साल 2015 और 2018 में पियारुल के खिलाफ मालपहाड़ी ओपी थाना क्षेत्र में विस्फोटक अधिनियम का मामला दर्ज है। वह किसके पास विस्फोटक पहुंचाने जा रहा था। इसकी जांच की जा रही है।

झारखंड

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

प्रत्याशियों के साथ चेम्बर टॉक शो भी आयोजित करेगा।

राज्य के व्यापार को सुदृढ़ बनाने की योजनाओं को एजेंडे में शामिल कराएगा।

रांची। लोकसभा चुनाव में प्रदेश स्तर पर मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए चैंबर मदद करेगा। शुक्रवार को हुए झारखंड चेम्बर में 7 वीं कार्यकारिणी की बैठक के दौरान यह निर्णय लिया गया। इसके लिए चैंबर की ओर से एक कमेटी का गठन किया गया। बैठक में निर्णय लिया गया है कि चुनाव के दिन वोटिंग का निशान दिखाने वाले ग्राहकों को खरीदारी में छूट दी जाएगी। इसके लिए व्यापारियों के साथ मीटिंग लेकर सहमति बनाई जाएगी।

चुनाव में विभिन्न दलों के प्रत्याशियों के साथ झारखंड चेम्बर टॉक शो आयोजित करेगा। उनसे व्यापार के मुद्दे पर राय जानेगा और राज्य के व्यापार को सुदृढ़ बनाने की योजनाओं को उनके एजेंडे में शामिल कराएगा। इसके लिए चैंबर कार्यक्रम की रूपरेखा तैयार कर रहा है। बैठक में चैंबर अध्यक्ष दीपक कुमार मारू, महासचिव कुणाल अजमानी, उपाध्यक्ष सोनी मेहता, दीनदयाल वर्णवाल, प्रवीण जैन छाबडा, राम बांगड, राहुल मारू, मनीष सर्राफ, मुकेशअग्रवाल, प्रवीण लोहिया, धीरज तनेजा, निखिल पोद्दार आदि उपस्थित थे।

झारखंड

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

ससुराल वालों पर हत्या कर शव डैम में फेंकने का आरोप

एक 9 साल की और एक दूध पीता बच्चा था

बेंगाबाद। डैम से एक महिला और उसके 2 बच्चों की लाश मिली है। बताया जा रहा है कि ससुराल वालों की प्रताड़ना से तंग आकर महिला अपने बच्चो के साथ डैम में छलांग लगा कर आत्महत्या कर ली। महिला के साथ छह महीने के दुधमुंहे बच्चे और 9 साल की बेटी की बच्ची का भी जीवन समाप्त हो गया। पुलिस ने तीनों का शव बरामद कर लिया है। वहीं मृतका के पिता ने बेटी के ससुराल वालों पर सबूत छुपाने के लिए तीनों का शव डैम में फेंक कर ठिकाना लगाने का आरोप लगाया है।  

यह घटना चकाई थाना क्षेत्र के तैतरिया गांव की है, मालती देवी के साथ 9 साल की सरस्वती कुमारी और छह महीने के दुधमुंहे बेटे गुलशन कुमार का शव चकाई सरोन के गंभारडीह डैम से मिला है। मृतका मालती देवी के पिता प्यारी राणा ने ससुराल वालों पर बेटी और नाती-नतिनी की हत्या कर साक्ष्य छुपाने के नीयत से तीनों का शव डैम में फेंक कर ठिकाना लगाने का आरोप लगाया है। चकाई थाना प्रभारी ने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मामले में कुछ कहा जा सकता है। मृतका के पिता प्यारी राणा के आवेदन पर थाना में हत्या का मामला दर्ज किया गया है, जिसमें दामाद लोचन राणा, समधी बली राणा, समधन और दामाद के भाई को नामजद अभियुक्त बनाया गया है। 

दरअसल खुरचुट्टा के प्यारी राणा की बेटी मालती देवी की 2005 में चकाई थाना क्षेत्र के तैतरिया गांव निवासी लोचन राणा से शादी हुई थी। इसी बीच मालती देवी ने एक बेटी और एक पुत्र को जन्म दिया। पति लोचन राणा असम में मजदूरी करता है। बताया जाता है कि पत्नी के रहते पति लोचन ने छुपकर दूसरी शादी कर ली थी। तब से ससुराल में मालती को प्रताड़ित किया जा रहा था। ससुराल वालों की प्रताड़ना से महिला परेशान हो रही थी। वह तीन दिनों से बच्चों के संग ससुराल से गायब थी। मालती के ससुर बली राणा ने चकाई थाना में इसकी सूचना नहीं दी थी। उन्होंने मालती के परिजनों को गायब होने की सूचना दी थी। इसी बीच चकाई गंभारडीह डैम में तीनों का तैरता हुआ शव पुलिस ने बरामद किया। 

आशंका जताई जा रही है कि ससुराल वालों की प्रताड़ना से तंग महिला मालती देवी ने दोनों बच्चों समेत डैम में छलांग लगाकर आत्महत्या कर ली। दोनों बच्चों का शव मां के शरीर से लिपटा हुआ था। शव के डैम से निकालते ही परिजनों के चीख पुकार से लोगों का दिल दहला कर रख दिया था। इस घटना की खबर से केवल चकाई ही नहीं बल्कि बेंगाबाद इलाके में सनसनी फैल गयी है, जिससे पूरे इलाके में मातम पसरा हुआ है। वहीं मालती देवी के परिजनों में ससुराल वालों के प्रति आक्रोश पनप रहा है।

झारखंड

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

 आरोपी करते थे मनी लांड्रिंग का काम

पूर्व मंत्री से जुड़े हैं मामले के तार 

 

रांची लोकसभा चुनाव के लिए वाहन चेकिंग के दौरान एक फॉर्च्यूनर एसयूवी से 30 लाख रुपये नगदी की बरामदगी हुई है। गुरुवार की शाम फॉर्च्यूनर एसयूवी में तीन लोगों के पास से रूपये बरामद किये गये हैं। आशंका यह भी जताई जा रही है कि इतनी मोटी रकम  लोकसभा चुनाव को प्रभावित करने के उद्देश्य से रांची में एक बड़े नेता के घर पहुंचाने की योजना थी।  

यह घटना पिठोरिया की है, जहां पतरातू से रांची की ओर आ रही फॉर्च्यूनर कार से रूपये बरामद किया गया है। वाहन क्र. जेएच-01बीएफ-9019 है, जो गजानंद प्रसाद के नाम पर पंजीकृत है। गजानंद प्रसाद रामगढ़ के सरैया टोला का रहने वाला है। कार में बरामद रुपये गजानंद प्रसाद के बताये जा रहे हैं। बरामदगी के वक्त कार में गजानंद प्रसाद व उमेश्वर प्रसाद के अलावा उनका चालक भी था। रुपयों के बारे में कार सवार तीनों व्यक्तियों ने संतोषजनक जवाब नहीं दिया। तीनों व्यक्ति कार सहित पिठोरिया थाने लाए गए, जहां उनसे पूछताछ जारी है।

पिठोरिया में 30 लाख रुपये के साथ गिरफ्तार गजानंद प्रसाद उर्फ गज्जू साव पूर्व मंत्री योगेंद्र साव का करीबी बताया जा रहा है। गज्जू साव कोयला कारोबारी है। यह भी बताया जा रहा है कि वह योगेंद्र साव के लिए मनी लांड्रिंग का काम करता रहा है। जिस वक्त पिठोरिया में इतनी बड़ी राशि पकड़ी गई, उस वक्त दूसरी कार में पूर्व मंत्री योगेंद्र साव के रिश्तेदार भी थे। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।

The Voices FB