मध्य प्रदेश

मध्य प्रदेश

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

 

किसान कांग्रेस के प्रदेश उपाध्‍यक्ष पर चली गोली 

नरसिंहपुर। पुलिया निर्माण कार्य को लेकर हुए विवाद में किसान कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष सुरेंद्र राय की गोली मारकर हत्या कर दी गई। हमले में उनके एक साथी कमलेश पाठक गंभीर रूप से घायल हो गए। घटना नरसिंहपुर के गोटेगांव तहसील के बिछिया गांव के पास गुरुवार शाम की है। दोनों को सामुदायिक अस्पताल गोटेगांव लाया गया, जहां से प्राथमिक इलाज के बाद जबलपुर रेफर किया गया। डॉक्टरों की जांच के बाद मृत घोषित कर दिया गया । पुलिस ने हत्या के मामले में बिछिया गांव के अजय सिंह को गिरफ्तार कर लिया है वहीँ दूसरा आरोपी विक्रम सिंह फरार है।

जानकारी के अनुसार प्रदेश किसान कांग्रेस के उपाध्यक्ष सुरेन्द्र राय ठेकेदारी करते थे। वह अपने साथी कमलेश के साथ गुरुवार शाम बिछिया गांव में पुलिया निर्माण कार्य के सिलसिले में पहुंचे थे। यहां पर पुलिया की ऊंचाई बढ़ाने को लेकर विक्रम सिंह और अजय सिंह से उनका विवाद हो गया। इसके बाद आरोपियों ने बन्दूक फायरिंग शुरू कर दी । सुरेंद्र राय पर दो व कमलेश के ऊपर एक गोली चलाई गई थी । राय को सीने में व हाथ में गोली लगी, कमलेश का बायां हाथ जख्मी हो गया। घटनास्थल पर एक स्थानीय बुजुर्ग ने गोली चलते हुए देखा तो उसने आनन फानन में अपनी गाड़ी छोड़कर दोनों घायलों को सामुदायिक अस्पताल में भर्ती कराया। इस घटना की खबर जैसे ही गोटेगांव के लोगों को हुई तो अस्पताल में समर्थकों की भीड़ बढ़ गई।

बढती भीड़ को देखकर बीएमओ डॉ. एसएस ठाकुर ने तत्काल घटना की सूचना पुलिस थाने को दी और सुरक्षा के लिए बल बुलवा लिया  जिससे स्थिति काबू कर सके। दोनों घायलों का प्राथमिक उपचार के बाद जब उन्हें जबलपुर रेफर किया गया तो मेडिकल कॉलेज में कांग्रेस नेता राय को मृत घोषित कर दिया गया।

राजेश तिवारी ,एएसपी (नरसिंहपुर) ने बताया कि सुरेन्द्र राय ठेकेदारी करते थे। पुलिया की ऊंचाई बढ़ाने की बात पर बिछिया के विक्रम सिंह और अजय सिंह से विवाद हुआ था। आरोपियों ने 3 गोलीयां चलाई थी , गोली सीने में लगने की वजह से सुरेन्द्र राय की मौत हो गई। मामले में अजय सिंह को गिरफ्तार कर लिया और विक्रम सिंह की तलाश जारी है, अभी जांच चल रही है।

घटना का विरोध करते हुए कांग्रेस ने किया नगर बंद का एलान-

गुरुवार की रात कांग्रेस की ओर से नगर बंद का आह्वान हेतु मुनादी कराई गई थी । कांग्रेस के कार्यकर्ता आज शुक्रवार को नगर बंद कराकर घटना का विरोध कर रहे हैं।

मध्य प्रदेश

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

- अपहरणकर्ताओं ने सुनसान इलाके में बस को रुकवाकर दिया वारदात को अंजाम

- तेल व्यवसायी के जुड़वा बच्चों का हुआ अपहरण 

चित्रकूट स्कूल बस से घर लौट रहे तेल व्यापारी के जुड़वा बच्चों का अपहरण कर लिया गया। मंगलवार को बदमाशों ने पहले बंदूक दिखाकर स्कूल बस को रुकवाया और फिर दोनों बच्चों को बस से उठाकर ले गए। स्कूल बस में लगे हुए सीसीटीवी कैमरे में पूरी घटना कैद हो गई। बच्चे मंगलवार को छुट्‌टी के बाद स्कूल बस से सतना स्थित घर लौट रहे थे।

यह घटना चित्रकूट की है, जहाँ दोनों बच्चे सद्गुरु ट्रस्ट के एसपीएस स्कूल में पढ़ते हैं। पुलिस ने बताया कि अपहृत जुड़वा बच्चों का नाम शिवम और देवांग हैं, उनकी उम्र 5 साल है। बच्चों के पिता का नाम बृजेश रावत है। वह तेल व्यवसायी हैं। एएसपी सतना गौतम सोलंकी ने बताया कि घटना की सूचना के बाद इलाके में नाकेबंदी करवा दी गई है। बच्चों की तलाश के लिए टीमें गठित की गई हैं।

अपहृत बच्चे अपहृत बच्चे

घटना स्थल पर मौजूद लोगों के मुताबिक बदमाशों ने पहले बस रुकवाई। फिर हथियार लहराते हुए एक नकाबपोश बदमाश बस में चढ़ा और दोनों बच्चों को उठाकर ले गया। बाद में बाइक में बच्चों को बैठाकर बदमाश भाग गए। वारदात के दौरान बस में दूसरे बच्चे, चालक और कंडक्टर भी मौजूद थे लेकिन बदमाशों के पास हथियार होने के कारण किसी ने भी घटना का विरोध नहीं किया।

एएसपी ने कहा कि बच्चों का अपहरण क्यों किया गया। इस बारे में फिलहाल कोई जानकारी नहीं है। पुलिस, परिजनों से पूछताछ करके जानकारी जुटा रही है। साथ ही, जिस अंदाज में घटना को अंजाम दिया गया है उससे यह तय है कि बदमाश दोनों बच्चों को अच्छी तरह से पहचानते थे। ऐसे में फिरौती के लिए अपहरण सहित सभी बिंदुओं पर पुलिस टीम ने जांच शुरू कर दी है।

The Voices FB