मध्य प्रदेश

मध्य प्रदेश
Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

भोपाल। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने प्रदेशवासियों से मानसून में पौधे लगाने कि अपील की है। उन्होंने कहा है कि अब हर साल लगने वाले पौधों का सोशल ऑडिट होगा। 

सरकार ने लोगों से अपील की है कि वो बारिश मे अपने घर के आसपास कम से कम एक पौधा लगाने का संकल्प लें और उसके बड़ा होने तक उसका ख़याल रखें। पौधारोपण अभियान सिर्फ आंकड़ों के हेर-फेर तक सीमित ना हो, इसका ध्यान रखा जाएगा। साथ ही अब पौधों का ऑडिट भी होगा, जिससे इन पौधों की निगरानी भी की जाएगी। इधर, भोपाल संभागायुक्त कल्पना श्रीवास्तव ने हरा भोपाल-शीतल भोपाल अभियान के तहत वेबसाइट www.greenbhopalcoolbhopal.in लाँच की है। इस वेबसाईट पर पर्यावरण संभंधित सभी जानकारियाँ उपलब्ध रहेंगी।

मध्य प्रदेश
Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

प्रेस कॉन्फ्रेंस के लिए अंदर जाने के चक्कर में हुआ विवाद

हाथापाई का वीडियो सोशल मीडिया में हो रहा वायरल

इंदौर। सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है, जिसमें एक कांग्रेसी नेता और एक पुलिसकर्मी हाथापाई करते नजर आ रहे हैं दरअसल यह वीडियो मध्यप्रदेश के इंदौर जिले का है, जहां कांग्रेस के प्रवक्ता सनी राजपाल और पुलिसकर्मी के बीच हाथापाई हो गई।

यह घटना मध्यप्रदेश के लोक निर्माण मंत्री की इंदौर के रेसीडेंसी कोठी की है, जहां प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान उस वक्त हंगामा मच गया, जब शहर कांग्रेस के प्रवक्ता सनी राजपाल पुलिसकर्मी से उलझ पड़ा। विवाद इतना बढ़ा कि दोनों के बीच हाथापाई तक हो गई। ऐसी जानकारी सामने आ रही कि प्रेस कॉन्फ्रेंस के लिए अंदर जाने के चक्कर में पूरा विवाद शुरू हुआ और फिर पुलिसकर्मी और कांग्रेस नेता के बीच धक्का-मुक्की हो गई। मौके पर खड़ी सीएसपी ज्योति उमठ ने बीच-बचाव किया, तब जाकर मामला शांत हुआ। लेकिन तब तक वहां खड़े शख्स ने इस घटना का वीडियो बना लिया।

;

बता दें कि लोक निर्माण मंत्री सज्जन सिंह वर्मा आज रेसीडेंसी कोठी में एक समीक्षा बैठक के लिए पहुंचे थे। इसके बाद वो एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे थे। बाहर सुरक्षा में पुलिसकर्मी तैनात थे। उसी वक्त शहर कांग्रेस के प्रवक्ता सनी राजपाल अंदर जाने के लिए गेट पर पहुंचे। उन्हें सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मी ने अंदर जाने से रोक दिया। दोनों के बीच इसे लेकर बहस हो गई। मामला इतना गरमाया कि हाथापाई तक हो गई। आस-पास खड़े पुलिसकर्मियों ने किसी तरह दोनों को अलग किया, तब जाकर मामला शांत हुआ।

मध्य प्रदेश
Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

पति को फोन कर के जान से मारने की धमकी दे रहे

युवती ने की परिजनों के खिलाफ थाने में  शिकायत

भिंड। शिवपुरी के करैरा की रहने वाली युवती ने परिजनों के खिलाफ थाने में  शिकायत की है। युवती अपने परिवार वालों के खिलाफ जा कर कोर्ट मैरिज करके अपने पति के साथ रहने लगी थी जिसके बाद युवती के घर वाले उसके पति को फोन कर के जान से मारने की धमकी  दे रहे है।

 सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक युवती  भिंड के प्रेम नगर अटेर रोड निवासी हैं। युवती अपने भाभी के घर के पास रहने वाले युवक से एक शादी में मिली थी जिसके बाद दोनों एक दुसरे से बात करने लगे और 26 जून को घर छोड़ा और राहुल के साथ 1 जून को मुरैना में कोर्ट मैरिज की। कोर्ट मैरिज के बाद राहुल के दोस्त के घर रही। शनिवार को मायके वाले भिंड आए तो रीना और राहुल मदद की गुहार लगाकर शहर कोतवाली आ गए। पुलिस ने पड़ताल की तो सामने आया कि युवती के परिजन ने करैरा थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई है। कोतवाली पुलिस ने करैरा पुलिस को सूचना दी है।कोतवाली पुलिस अब करैरा पुलिस के आने का इंतजार कर रही है। करैना पुलिस को युवती को सौपा जाएगा। वहां रीना तय करेगी कि उसे पति राहुल के साथ रहना है या मायके पक्ष के साथ

शहर कोतवाली भिंड एसओ मंगल सिंह पपोला ने बताया की  करैरा थाने में युवती की गुमशुदगी दर्ज है। करैरा पुलिस को सूचना की गई है। युवती को उनके सुपुर्द किया जाएगा। हमारे पास मायके पक्ष से सुरक्षा देने के लिए आए हैं। पूरी मदद की जाएगी  

मध्य प्रदेश
Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

जबलपुर भेड़ाघाट क्षेत्र में स्वर्गद्वारी के पास भाजयुमो नेता की हत्या की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है।14 जून की दोपहर भेड़ाघाट पंचवटी निवासी ऋषभ जैन भाजयुमो नेता और मूर्ति दुकान संचालक का लाश स्वर्गद्वारी में रेत में गड़ा हुआ मिला था कर्ज से छुटकारा पाने के लिए दुकान के कर्मचारी और मृतक के दो दोस्त ने मिल कर ऋषभ को मौत के घाट उतार दिया.इस हत्या के मामले में पुलिस ने पुरुषोत्तम रजक बाबू भूमिया शिब्बू भूमिया  तीन आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है  

कर्ज से छुटकारा पाने बनाई थी योजना

तीनों आरोपितों ने पूछताछ में बताया कि वह ऋषभ को शराब पिलाकर उसे बेहोश कर रेत में गड़ाने और उसके मोबाइल से उसके परिजन से दो लाख रुपए की मांग करने का प्लान बनाया था। इससे वह तीनों अपना कर्ज उतार देते। यह प्लान 15 दिन पहले बनाया गया था।

हत्या के बाद लाश को रेत में गाड़ा  

ऋषभ की हत्या करने के बाद आरोपियों ने उसका शव बोरे में छुपाकर बाइक में रखा और कुछ दूर रेत में शव को रखकर गड़ा दिया। वहीं फावड़े को नदी में फेंक दिया और ऋषभ का मोबाइल अपने पास रख लिया। जब ऋषभ का शव पुलिस को मिला, तो मोबाइल को नया पुल के नीचे कुंड में फेंक दिया। आरोपितों के बताने पर कुंड से मोबाइल जब्त किया गया है। आरोपितों से अन्य सामान जब्त करने के लिए रिमांड पर लिया गया है।

इनकी रही सराहनीय भूमिका

आरोपितों को गिरफ्तार करने के लिए टीआई भेड़ाघाट शशि विश्वकर्मा, क्राइम ब्रांच के धनंजय सिंह, विजय शुक्ला, आरक्षक बीरबल, मोहित उपाध्याय, दीपक रघुवंशी, नितिन, भेड़ाघाट के उनि आरएस उपाध्याय, अशोक मंडावी, शिवचरण दुबे, आरक्षक हरिओम, छन्नूलाल, दिनेश, रूपेश, माधुरी की सराहनीय भूमिका रही। एसपी ने टीम को पुरस्कृत करने की घोषणा की है।

The Voices FB

Click NowClick Now