ओडिशा

ओडिशा

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

फूलवाणी। ओडिशा में कंधमाल जिले के सरकारी आदिवासी आवासीय स्कूल में एक नाबालिग छात्रा ने अपने छात्रावास में एक बच्ची को जन्म दिया। इस घटना के बाद प्रशासन ने छह कर्मचारियों के खिलाफ रविवार को कार्रवाई की है। बताया गया कि छात्रा और बेटी को अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां दोनों की हालत स्थिर है।

कंधमाल जिला कल्याण अधिकारी (डीब्ल्यूओ) चारूलता मलिक ने कहा, 'आठवीं कक्षा में पढ़ने वाली 14 वर्षीय छात्रा ने शनिवार को स्कूल के छात्रावास में बच्ची को जन्म दिया।' गौरतलब है कि ओडिशा के जनजातीय और ग्रामीण विकास विभाग की ओर से संचालित सेवा आश्रम हाई स्कूल कंधमाल के दरिंगबाड़ी में स्थित है।

बताया गया कि छात्रा और बच्ची को एक स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उनकी हालत स्थिर है। अधिकारियों ने बताया कि दो मैट्रन, दो बावर्ची और अटेंडेंट, एक महिला पर्यवेक्षक और एक सहायक नर्स के खिलाफ ड्यूटी में लापरवाही बरतने के आरोप में कार्रवाई की गई है।

Tags:

ओडिशा

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

नई दिल्ली। 'मिशन शक्ति' सम्मेलन में ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने राज्य में महिला स्वयं सहायता समूहों को तीन लाख रुपये तक ब्याज मुक्त कर्ज देने की घोषणा की। ओडिशा में करीब छह लाख महिला स्वयंसहायता समूह हैं। ओडिशा में सेल्फ-हेल्प ग्रुप (स्वयं सहायता समूह) में 70 लाख महिलाएं जुड़ीं हुई हैं। इस सम्मेलन में राज्य के विभिन्न हिस्से से करीब 50,000 महिलाओं ने शिरकत की। ओडिशा में करीब छह लाख महिला स्वयं सहायता समूह है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्हें यह घोषणा करते हुए खुशी हो रही है। उन्होंने महिलाओं के डिजिटल रूप से सशक्त बनाने के लिए छह लाख महिला स्वयं सहायता समूहों में प्रत्येक को 3,000 रूपये की वित्तीय सहायता भी प्रदान की। बता दें कि पिछले साल नवंबर में ‘मेक इन ओडिशा’ सम्मेलन के दौरान पटनायक ने छह लाख महिला स्वयं सहायता समूहों को स्मार्टफोन देने का वादा किया था।

The Voices FB