By रमेश गुप्‍ता

भिलाई। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन दुर्ग-भिलाई द्वारा स्पर्श अस्पताल भिलाई में मरीज के परिजनों द्वारा डॉक्टरों से मारपीट एवं तोड़-फोड़ की घटना के विरोध में दुर्ग भिलाई के चिकित्सक 30 जनवरी को हड़ताल करेंगे। यह हड़ताल सुबह 9 बजे से रात 10 बजे तक किया जायेगा इस हड़ताल में दुर्ग-भिलाई 6 सौ डॉक्टर अपना नर्सिंग होम, निजी अस्पताल एवं ओपीडी जैसी सुविधाएं बंद रहेंगी।



इंडियन मेडिकल एसोसिएशन की दुर्ग की अध्यक्ष डॉ अर्चना चौहान ने कहा है कि डॉक्टरों के विरुद्ध मारपीट के विरोध में एवं डॉक्टरों को सुरक्षा देने को लेकर एसोसिएशन के करीब 6 सौ डॉक्टर इस हड़ताल में शामिल होंगे तथा जो कानून बनाया गया है उसे कड़ाई से पालन करने के लिए शासन प्रशासन से मांग करेंगे।

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के भिलाई अध्यक्ष डॉक्टर टी अख्तर ने बताया कि किसी भी पेशेंट की मौत होती है, तो लोगों की धारणा बन गई है इसके लिए डॉक्टर जिम्मेदार है। पर ऐसा नहीं है डॉक्टर हमेशा यही कोशिश करता है की पेशेंट बच जाए। उसका अच्छा इलाज हो पर इन दिनों डॉक्टर सुरक्षित नहीं है। अगर यही हाल रहा तो आगे चलकर कोई भी डॉक्टर गंभीर मरीज को इलाज करने से कतराएगा जिसका असर मरीज और उसके परिजनों को सहना पड़ सकता है। उन्होंने बताया कि कानून में डॉक्टरों के ऊपर हाथ उठाना तोड़फोड़ करना गैर जमानती धारा है, फिर भी  पुलिस जितना सहयोग डॉक्टर को करना चाहिए नहीं कर रही है। हम अपनी मांग को रख कर उन्हें इन सब बातों से अवगत कराएंगे।