जशपुरनगर। अपने मामा के घर मेहमान बनकर आए भांजे ने मामा की आलमारी खोलकर 2 लाख रुपए नगदी रकम पार कर दिया। मामला सिटी कोतवाली क्षेत्र के आजाद मोहल्ला की है। आजाद मोहल्ला निवासी आफताब खान पिता लतीफ खान ने थाने में रिपोर्ट लिखवाते हुए जानकारी दी कि शुक्रवार की रात 8 बजे सिसई के कंपाउडर गली में रहने वाला उसका भांजा मासूक अंसारी पिता इफ्तखार अंसारी घर आया और मामा आफताब से कहा मैं रात में यहीं रूकूंगा सुबह जल्दी चला जाउंगा। आफताब अपने घर में अकेला रहता है। उसने अपने भांजा मासूक को दूसरे कमरे में सुला दिया। आफताब की रात 3 बजे अचानक नींद खुली तो देखा मासूक एक छोटा सा बैग लेकर घर से निकल रहा था। उसे लगा वह अपने घर जाने के लिए निकल रहा है यह सोचकर उसने कुछ नहीं कहा। 2 घंटे बाद 5 बजे वह फिर आया और अपने कमरे में घुंसा। 25 मिनट बाद फिर वह वहां से निकल गया। उसके निकलने के बाद आफताब जब कमरे में गया तो देखा आलमारी का लॉक खुला है और उसमें रखा लगभग 2 लाख रुपए गायब था। आफताब ने अपने भांजा के मोबाइल नंबर पर फोन किया पर भांजे ने फोन बंर कर दिया था। पुलिस आफताब की शिकायत पर उसके भांजा के खिलाफ अपराध दर्ज कर उसे ढूंढ़ रही है।