मुंबई। महाराष्ट्र के शिक्षा मंत्री विनोद तावडे से सवाल पूछना अमरावती के एक विवि के छात्र को मंहगा पड़ गया। छात्र के सवाल से नाराज होकर मंत्री ने उसे गिरफ्तार करने के आदेश दे दिए। दरअसल कॉलेज में सवाल-जवाब का सत्र चल रहा था। इसी दौरान छात्र ने उनसे कॉलेज की फीस को लेकर सवाल पूछ लिया। कॉलेज के छात्रों का कहना है कि उन्होंने विनोद तावडे से पूछा कि रोजाना उच्च शिक्षा का खर्च बढ़ता जा रहा है, ऐसे में क्या सरकार गरीब छात्रों को मुफ्त में शिक्षा देगी? वहां मौजूद छात्रों का कहना है कि इस सवाल पर मंत्रीजी भड़क गए। इस सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि यदि बढ़ते हुए खर्च के कारण छात्र पढ़ नहीं सकते हैं तो उन्हें काम करना शुरू कर देना चाहिए।



राजनीतिक विवाद: विश्वविद्यालय का कहना है कि इस सवाल का जवाब देने के बाद तावडे और ज्यादा नाराज हो गए। उन्होंने तुरंत इस जवाब के वीडियो की रिकॉर्डिंग को डिलीट करने को कहा। इसके साथ ही पुलिस को कहा कि वह उस लड़के को लेकर चले जाएं। घटना के बाद राजनीतिक विवाद खड़ा हो गया है। युवा सेना के मुखिया आदित्य ठाकरे ने इसे लेकर ट्वीट किया। आदित्य ने ट्वीट करके लिखा हर छात्र को यह पढ़ना चाहिए। महाराष्ट्र के शिक्षा मंत्री ने पुलिस को छात्र को गिरफ्तार करने का आदेश दिया। क्यों? क्योंकि वह एक इंटरेक्शन में बात कर रहे थे। कृपया कोई कठिन सवाल न पूछें। वह चाहते हैं कि युवा केवल अपने चुनावी बूथों पर जाएं, शिक्षा और नौकरी से जुड़े किसी सवाल का जवाब नहीं देना चाहते।