नई दिल्ली। बजट सत्र के समापन अवसर पर गुरुवार को PM मोदी द्वारा समापन भाषण दिया गया। ये भाषण इस लिहाज से भी महत्वपूर्ण था कि सरकार के कार्यकाल का ये अंतिम भाषण हैं। अपने भाषण के दौरान पीएम मोदी ने कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। उन्होंने विपक्ष के महागठबंधन पर भी निशाना साधा और कहा कि महामिलावटी सरकार बनाने की तैयारी की जा रही है। देश के लिए ये सरकार खतरनाक है। मोदी ने अपने भाषण के दौरान कविता भी सुनाई।

भाषण के मुख्य अंश

  • लोकतंत्र मे आलोचना जरूरी है।
  • विपक्ष कहता है मोदी संस्थाओं को खत्म कर रहा है, कहावत है कि उल्टा चोर चौकीदार को डाटे।
  • कांग्रेस ने देश में आपातकाल थोपा, सेना को अपमानित किया।
  • सेना कभी तख्तापलट नहीं कर सकती है। कांग्रेस ने ऐसा आरोप लगाया।
  • विपक्ष अपनी विफलता को EVM पर डालता है।
  • कांग्रेस ने न्यायपालिका को धमकाया है।
  • नीति आयोग को जोकरों का समूह कहा जाता था।
  • इंदिरा गांधी ने 50 बार सरकारें गिराई है।
  • कुछ दल चुनाव आयोग को बर्बाद कर रहे हैं।
  • कांग्रेस ने सेना को भी अपमानित किया है।

 

मोदी ने कांग्रेस पर जमकर साधा निशाना

  • बैंकिंग व्यवस्था नामदार फोन कर बड़े लोगों को मदद पहुंचाते थे।
  • कर्ज लेकर भागे लोग रो रहे कि मोदी ने जितना लिया उससे ज्यादा वसूल लिया ।
  • जनता ने पूर्ण बहुमत की सरकार चुनी है।
  • विपक्ष में महामिलावट की सरकार का खेल चल रहा है।
  • देश ने 30 साल महामिलावट की सरकार देखी है।