The Voices

The Voices
Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive
कांकेर- जिले के धुर नक्सल प्रभावित कोयलीबेड़ा ब्लॉक में जवानों ने एक बार फिर नक्सलियों की नापाक साजिश को नाकाम कर दिया हैं ।जवानो ने मरकानार से बड़पारा मार्ग से दो आईईडी बरामद की है। आईईडी को बीडीएस की टीम ने मौके पर ही ब्लास्ट कर निष्क्रिय कर दिया है ।
जिले में जिस तरह से लगातार आइईडी बरामद हो रही है उससे साफ है कि नक्सली किसी बड़ी साजिश को अंजाम देने के फिराक में है लेकिन जवानो को सतर्कता से नक्सली लगातार विफल हो रहे है। हाल ही में आमाबेड़ा , कोयलीबेड़ा क्षेत्र से कुल 6 आइईडी बरामद हो चुकी है। वही आइईडी प्लांट करते ब्लास्ट से एक नक्सली की मौत भी हुई है । जिस तरह से जिले में नक्सली गतिविधि में एकाएक तेज़ी देखी जा रही है उससे पुलिस और सुरक्षाबल के जवान एलर्ट पर है।

The Voices
Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive
नारायणपुर- जिले से इस वक़्त बड़ी खबर सामने आ रही है, सर्चिंग पर निकले जवानों की महाराष्ट्र बॉर्डर पर नक्सलियों से जबरदस्त मुठभेड़ हुई है। मुठभेड़ में डीआरजी के एक जवान को गोली लगी है जिसकी हालात चिंताजनक बताई जा रही है।जवान को जंगल से बाहर निकालने की कोशिश की जा रही है। नारायणपुर एसपी मोहित गर्ग ने घटना की पुष्टि की है।
नारायणपुर से डीआरजी के जवान नक्सल गस्त पर रवाना हुये थे इसी दौरान महाराष्ट्र बॉर्डर पर घात लगाए बैठे नक्सलियों ने जवानो पर ताबड़तोड़ फायरिंग शुरु कर दी, जिसमे डीआरजी के एक जवान को गोली लगी है । जवानों की जवाबी कार्यवाही में नक्सली भाग खड़े हुए है । 

The Voices
Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

By रमेश गुप्ता

        

क्षेत्र के प्रसिद्ध धार्मिक पर्यटन व पूज्य स्थल भनवारीटंक मरही माता मन्दिर हेतु आने वाले भक्तों पर्यटकों तथा मन्दिर प्रबंधन के बीच सुरक्षा व्यवस्था व अन्य व्यवस्थाओं में सुधार के लिए बिलासपुर के पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल के द्वारा ग्राम भनवारटंक के मरही माता मंदिर के धार्मिक स्थल पहुंचकर पूजा अर्चना करने पश्चात मंदिर प्रांगण में मरही माता मंदिर समिति, क्षेत्र के लोग, विभागीय अधिकारियों, राजस्व के अधिकारियों के साथ एक समीक्षा बैठक कर क्षेत्र व मंदिर  की सुरक्षा एवं अन्य समस्याओं के बारे में विस्तृत चर्चा किया। 

इस दौरान मंदिर समिति प्रबंधन ने बताया कि प्रत्येक रविवार को मंदिर में श्रद्धालुओं की काफी भीड़ आती है, एवं दर्शन करने आये लोग अपने परिवार के साथ पिकनिक मनाते हैं इस बीच कुछ ऐसे ही तत्वों के द्वारा शराब का सेवन कर आपस मे वाद विवाद करते हैं जिसके लिए उन्हें पुलिस बल की आवश्यकता है। 

पुलिस अधीक्षक ने मांग के अनुरूप प्रत्येक रविवार को पुलिस बल उपलब्ध कराने एसडीओपी कोटा एवं चौकी प्रभारी बेलगहना को निर्देशित किया साथ ही तात्कालिक रूप से बेहतर और संख्यात्मक बल भी समय समय पर लगाने को कहा ।

अवैध शराब ,सार्वजनिक रूप से शराब सेवन को प्रतिबंधित एवं हतोत्साहित करने मन्दिर प्रबंधन व प्रशासन को मिलकर कार्य करने पर सहमति बनी। 

सामुदायिक पुलिसिंग के तहत क्षेत्र के लोगो को जोड़कर 20 सदस्यीय मंदिर रक्षा समिति बनाया गया।जो प्रत्येक रविवार, बुधवार एवं अन्य दिनों में पुलिस के साथ मिलकर मंदिर में आने वाले असामाजिक तत्व के लोगो पर लगाम लगाने व कानून व्यवस्था बनाने में पुलिस का सहयोग करेंगे।

समीक्षा बैठक में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) संजय ध्रुव, SDM कोटा आनंद तिवारी, SDOP कोटा रश्मित कौर चावला, तहसीलदार बेलगहना, थाना प्रभारी कोटा, चौकी प्रभारी बेलगहना, पुलिस स्टॉफ, मंदिर समिति के सदस्य, क्षेत्र के लोग उपस्थित थे।

The Voices
Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive
जगदलपुर- नक्सलियों के द्धारा प्रेस नोट जारी कर बस्तर के दो पत्रकारों गणेश मिश्रा और लीलाधर राठी को जान से मारने की धमकी देने के मामले में अब नक्सलियों ने फिर से एक प्रेस नोट जारी किया है, जिसमे नक्सली बैकफुट पर नज़र आ रहे है। नक्सलियों ने पत्रकारों से आंदोलन बंद करने की अपील की है साथ ही मामले को लेकर बैठकर चर्चा करने की बात कही है। प्रेस नोट दक्षिण सब जोनल के ब्यूरो द्वारा जारी किया गया है।
नक्सलियों के दक्षिण सब जोनल के ब्यूरो द्धारा 9 फरवरी को एक प्रेस नोट जारी किया गया था जिसमें नक्सलियों ने पत्रकार गणेश मिश्रा और लीलाधर राठी पर कार्पोरेट घराने और शासन प्रशासन के साथ मिलकर काम करने का आरोप लगाते हुए जनता की जनअदालत में सज़ा देने की बात कही थी।जिसके बाद बस्तर संभाग के पत्रकारों में भारी आक्रोश देखा जा रहा है, बस्तर के पत्रकारों ने नक्सलियों के गढ़ माने जाने वाले इलाकों में जाकर नक्सलियों के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है जिससे अब नक्सली बैकफुट में है। नक्सलियों के दक्षिण सब जोनल के ब्यूरो द्वारा 17 फरवरी को एक प्रेस नोट जारी किया गया है जिसमे नक्सलियों ने पत्रकारों से कहा है कि आपकी बातें हम तक पहुँच गई है। नक्सलियों ने पत्रकारों से आंदोलन रोकने की अपील करते हुए लिखा है कि जो भी समस्या पत्रकारो और नक्सल संगठन के बीच खड़ी हुई है उसे आपस में बात कर सुलझाया जा सकता है। नक्सलियों ने प्रेस नोट के माध्यम से कहा है कि बाइक रैली के माध्यम से मुलाकात नही हो सकती इसलिए जल्द ही सुविधा  से खबर भेजकर बातचीत करेंगे। 

Subcategories

The Voices FB

https://www.facebook.com/thevoiceshindi

Click NowClick Now